पूर्व लोकसभा स्पीकर सोमनाथ चटर्जी का निधन

0
760

सोमनाथ दा के नाम से मशहूर रहे वरिष्ठ नेता और लोकसभा की पूर्व स्पीकर सोमनाथ चटर्जी का सोमवार सुबह निधन हो गया। वे ८९ वर्ष के थे और कुछ समय से कोलकाता के एक अस्पताल में भर्ती थे। सोमनाथ चटर्जी दस बार लोकसभा के सदस्य रहे जबकि वे २००४ से 2009 तक लोकसभा के स्पीकर रहे।

सोमनाथ को कोलकाता के अस्पताल में पिछले मंगलवार भर्ती कराया गया था, जहां उनको दिल का दौरा पड़ा था। वे आईसीयू में भर्ती थे। पीएम मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित कई बड़े नेताओं ने सोमनाथ के निधन पर शोक जताया है। चटर्जी १९७१ में पहली बार लोक सभा के लिए चुने गए थे। सोमनाथ का जन्म 25 जुलाई, 1929 को तेजपुर में हुआ। डॉक्टरों के मुताबिक, चटर्जी का इलाज करीब 40 दिन से चल रहा था। सुधार के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी लेकिन उनको मंगलवार को फिर से भर्ती कराया गया था। जहां उनकी डायलिसिस की जा रही थी। वे गुर्दे की समस्या से जूझ रहे थे।

दस बार लोकसभा के सदस्य रहे सोमनाथ दा माकपा की केंद्रीय समिति के भी सदस्य रहे। वे २००४ से 2009 के बीच लोकसभा के अध्यक्ष रहे। हालांकि इसी बीच उनकी पार्टी के साथ अनबन भी हो गई जब उनकी पार्टी ने यूपीए की पहली सरकार (२००४-२००९) से समर्थन वापस ले लिया। उस वक्त सोमनाथ चटर्जी ने लोकसभा अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने से इनकार कर दिया था और तब 2008 में उन्हें माकपा से निष्कासित कर दिया गया था।

माकपा के साथ राजनीतिक करियर की शुरुआत चटर्जी ने ब्रिटेन में लॉ की पढ़ाई करने के बाद कलकत्ता हाइकोर्ट में प्रैक्टिस की थी और उसके बाद राजनीति में कदम रखा था। सीपीआई के साथ राजनीतिक करियर की शुरुआत 1968 में की और 2008 तक इस पार्टी से जुड़े रहे थे। यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी सोमनाथ के निधन पर शोक जताया है।