पीएफ पर ब्याज दर घटाकर 8.1 फीसदी की केंद्रीय न्यासी बोर्ड ने

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने माली साल 2021-22 के लिए भविष्य निधि (पीएफ) में जमा राशियों पर ब्याज की दर घटाकर अब तक की दूसरी सबसे कम 8.1 फीसदी कर दी है। इसका फैसला शनिवार को केंद्रीय न्यासी बोर्ड की गुवाहाटी में हुई बैठक में किया गया।

पिछले चार दशक में यह ब्याज दर सबसे कम है। वित्त वर्ष 2020-21 में यह दर 8.5 फीसदी थी जबकि इससे पहले सबसे कम  ब्याज दर 1977-78 में 8 फीसदी थी। बता दें ईपीएफओ के देश में करीब पांच करोड़ सदस्य हैं।