पाकिस्तान लौटते ही शरीफ बेटी मरियम के साथ गिरफ्तार

0
1505

पाकिस्तान लौटते ही आखिर पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को उनकी बेटी मरियम शरीफ के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। जैसे ही शरीफ अपनी बेटी के साथ शुक्रवार रात ९.३० बजे लाहौर के अल्लामा इकबाल इंटरनैशनल एयरपोर्ट पर उतरे उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। पाकिस्तान में इसी महीने की 25 तारीख को नेशनल असेंबली के लिए चुनाव होने हैं और अभी तक के सर्वे में शरीफ की पार्टी मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) को क्रिकेटर से राजनीतिक बने इमरान खान की तहरीक-इ-इन्साफ के मुकाबले दूसरे नंबर पर बताया जा रहा है। माना जाता है पाकिस्तान लौटकर शरीफ गिरफ्तार होकर जनता की साहनुभूति बटोरना चाहते हैं।

भ्रष्टाचार के मामले में गिरफ्तारी से पहले शरीफ अपने समर्थकों को सम्बोधित करना चाहते थे जो  बड़ी तादाद में एयरपोर्ट पहुंचे हुए थे लेकिन अधिकारीयों ने शरीफ को इसकी इजाजत नहीं दी।

बताया जा रहा है कि एफआईए के तीन सदस्यों ने एयरपोर्ट पहुंचकर शरीफ और उनकी बेटी का पासपोर्ट जब्त कर लिया है। शरीफ के साथ उनकी बेटी मरियम को भी गिरफ्तार किया गया है। धनशोधन (मनी लांड्रिंग ) के मामले में शरीफ को एक कोर्ट की तरफ से दस साल और उनकी बेटी मरियम को सात साल की सजा सुनाई गयी है। शरीफ के खिलाफ याचिका देने वालों में एक इमरान खान भी थे।

अभी तक मिली रिपोर्ट के मुताबिक शरीफ परिवार के गृह सूबे पंजाब में इंटरनेट सेवाएं स्थगित कर दी गई हैँ। वैसे नवाज शरीफ की मां बेगम शमीम अख्तर और उनके बेटे शहबाज शरीफ और सलमान को लाहौर एयरपोर्ट पर नवाज शरीफ से मिलने की इजाजत दी गई। शरीफ के पाकिस्तान पहुँचाने से पहले ही अधिकारियों ने पाकिस्तान में किसी भी स्थिति को बिगड़ने से रोकने के लिए शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के ४५० के करीब वर्कर्स को हिरासत में ले लिया था।

पाकिस्तान के मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक लाहौर के लिए निकलने से पहले शरीफ ने अपने समर्थकों को कहा, ‘जो मेरे बस में है और जो मेरे बस में था, वह मैंने कर दिया है।’

लाहौर आते हुए जहाज में उनका एक वीडियो रिकॉर्ड किया गया है जिसमें उन्होंने कहा कि मुझे मालूम है कि लाहौर पहुंचते ही मुझे जेलखाने भेज दिया जाएगा, लेकिन पाकिस्तानी कौम को मैं बताना चाहता हूं कि यह सब मैं आप के लिए कर रहा हूं। यह कुर्बानी मैं आपकी नस्ल के लिए दे रहा हूं। लिहाजा मेरा भरपूर साथ दें। इस वीडियो को सम्भवता उनकी पार्टी के लोगों ने जारी किया है जिसे भिविन्न टीवी चैनलों पर भी दिखाया गया है। शरीफ की पत्नी गंभीर तौर पर बीमार हैं और लन्दन में उनका इलाज चल रहा है।

गौरतलब है कि २०१६ में पनामा पेपर लीक में नाम आने के बाद नवाज शरीफ को जुलाई 2017 में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। जांच के बाद शरीफ और उनकी बेटी मनी लॉन्ड्रिंग का केस चलाया गया था। पाकिस्तानी ट्राइब्यूनल कोर्ट ने इसी ५ जुलाई को शरीफ और उनकी बेटी मरियम को दोषी बताते हुए कैद की सजा सुनाई थी। दोनों को जब यह सजा सुनाई गई थी तब वे लंदन में थे।

पाकिस्तान की राजनीति पर नज़र रखने वालों का कहना है कि पाकिस्तान में सेना इन चुनावों में अपना दबदवा बनाये रखने के लिए इमरान खान की तहरीक-इ-इन्साफ को अंदरखाते समर्थन दे रही है हालांकि वह यह भी चाहती है कि किसी दाल को साफ़ बहुमत न मिले ताकि वह अपना रोल अदा  करती रहे।

पहले बताया गया था कि नवाज़ और मरियम की फ्लाइट दो घंटे लेट हो गई है। दोनों एतिहाद एयरवेज की फ्लाइट ईवाई २४३ से आबू धाबी के रास्ते पाकिस्तान पहुंचे। लंदन से निकलने से पहले मरियम ने टि्वटर पर तस्वीरें शेयर भी शेयर की थीं जिसमें से एक में वे शरीफ की पत्नी कुलसूम नवाज़ के पास खड़े दिख रहे हैं। दोनों को हेलिकॉप्टर के जरिए इस्लामाबाद ले जाया गया है और कागजी कार्रवाई के बाद दोनों को अडियाला जेल में रखा जाएगा।