पहला टेस्ट भारत की झोली में

दक्षिण अफ्रीका को २०३ रन से हराया, शमी ५ और जडेजा ४ विकेट

0
703

विशाखापत्तनम टेस्ट के आखिरी दिन ३९५ रन के लक्ष्य का पीछा कर रही दक्षिण अफ्रीकी टीम को महज १९१ रन पर ढेर कर भारत ने मैच २०३ रन से जीत लिया है। लंच तक भारत जीत से महज २ विकेट दूर था। भारत की तरफ से सबसे सफल गेंदबाज रविंद्र जडेजा और मोहम्मद शमी रहे जिन्होंने क्रमशः ४ और ५ विकेट लिए। इस तरह भारत ने तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला में १-० की बढ़त बना ली है। रोहित शर्मा ”मैन ऑफ द  मैच” रहे।

दक्षिण अफ्रीका टीम आज ११/१ रन से आगे खलेने के लिए उत्तरी। कुल ३९५ रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी अफ्रीकी टीम ने आते ही दो विकेट गंवा दिए। पहला विकेट रविचंद्रन अश्विन ने थेनिस डे ब्रूयन को बोल्ड कर लिया। अश्विन का टेस्ट क्रिकेट में यह ३५० वां विकेट था। अब उन्होंने सबसे तेज ३५० विकेट के वर्ल्ड रेकॉर्ड की बराबरी कर ली है। मोहम्मद शमी ने टेंबा बवूमा को खाता खोले बगैर बोल्ड कर अफ्रीका के परेशानी बढ़ा दी।

साउथ अफ्रीकी टीम ने मात्र ६० के स्कोर पर पांच विकेट गंवा दिए थे। एडन मार्करम ७४ गेंद पर ३९ रन बनाकर आउट हुए। रविंद्र जडेजा ने मार्करम को आउट किया। अगली गेंद पर जडेजा ने केशव महाराज को भी आउट कर दिया। जडेजा ने एक ही ओवर में तीन विकेट चटकाए हालांकि वे हैट्रिक बनाने से चूक गए।

दक्षिण अफ्रीका के डेन पीट और सेनुरन मुथुस्वामी ने पिच पर जमकर भारतीय टीम के जीत के इंतजार को बढ़ा दिया और नवें विकेट के लिए अच्छी साझेदारी की। पहले ही सेशन में भारत ने ७ विकेट ले लिए जिसके बाद लंच को डिले करते हुए सेशन का समय १५ मिनट बढ़ा दिया गया। लेकिन भारत ८ के बाद की विकेट इस दौरान नहीं ले पाया जिसके बाद लंच कर दिया गया।

अफ्रीका की तरफ से सबसे ज्यादा रन मार्क्रम ने ३९ बनाये जबकि फाफ डुप्लेसिस ने १३ और ब्रूटन ने १० रन बनाये। मुथुसामी ने नावाद ४९ , रवाडा ने १८ और पीट ने ५६ रन बनाये। दोनों विकेट पर काफी देर तक डटे रहे जिससे भारत की जीत में देरी हुई। दोनों ने मिलकर ९१ रन बनाये। वैसे अफ्रीका ने आठ विकेट महज ७० रन पर गंवा दिए थे।

भारत की तरफ से मोहम्मद शमी ने ५, रविचंद्रन आश्विन ने एक और जडेजा ने  ४ विकेट लिए। भारत ने अब श्रृंखला में १-० की बढ़त बना ली है।