पटना रैली में कांग्रेस ने जुटाई भीड़

बेहतर सरकार देंगे : राहुल; तेजस्वी बोले राहुल बनेंगे पीएम

0
653

तीस साल बाद पटना में कांग्रेस ने रविवार को कोइ रैली की। इसमें भीड़ देखकर अध्यक्ष राहुल गांधी ही नहीं रैली में आये विपक्ष के तमाम नेता गदगद दिखे। राहुल ने रैली में जहाँ मोदी सरकार पर जमकर हमला किया वहीं लोगों से वादा किया कि केंद्र में सत्ता में आने पर कांग्रेस (गठबंधन) की सरकार देश को एक बेहतर सरकार देगी।

कांग्रेस ने इस रैली का नाम ”जन आकांक्षा रैली” रखा था। कांग्रेस लोक सभा चुनाव से पहले यह दिखाने की कोशिश में है कि उसका आधार देश भर में है। पटना की रैली में जबरदस्त भीड़ जुटाकर उसने रविवार को यह साबित भी किया। इस रैली के सफलता से निश्चित ही कांग्रेस और विपक्ष का जबरदस्त उत्साह बढ़ा होगा। मंच पर पहुंचने से पहले राहुल गांधी ने महात्मा गांधी की मूर्ति पर पुष्प अर्पित किए।

रैली में राष्ट्रीय जनता दल के तेजस्वी यादव, शरद यादव और अन्य नेताओं सहित महागठबंधन के अन्य नेता शामिल हुए। कांग्रेस के हाल में तीन राज्यों में मुख्यमंत्री बने अशोक गहलोत, कमलनाथ एयर भूपेश भगेल भी आये थे।

रैली में राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने बजट में किसानों के लिए की गई घोषणाओं को उनका अपमान बताया। कहा – ”मोदी सरकार पूंजीपतियों के लिए तो खूब पैसे देती है, लेकिन किसानों को १७ रुपये देती है। यह किसानों का अपमान है।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि नोटबंदी दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला है। ”मोदी कहते हैं कि हर आदमी को १५ लाख देंगे, लेकिन यहां कोई ऐसा है जिसे मिला है। बिहार में विपक्ष की सरकार आने वाली है। इसके गहरे कारण हैं। मोदीजी जहां जाते हैं बड़े-बड़े वादे कर जाते हैं। नीतीशजी की भी यही आदत है। लेकिन वादे पूरे नहीं किए जाते हैं।”

गांधी ने कहा – ”बजट में मोदी सरकार ने बड़ी घोषणा की। भाजपा नेताओं ने कहा कि ऐतिहासिक निर्णय किया है और पांच मिनट तक उन्होंने धड़ाधड़ तालियां बजाईं। किसानों के लिए उन्होंने ऐतिहासिक काम किया। मोदीजी यूं ताली बजा रहे हैं। पता है उन्होंने क्या ऐतिहासिक काम किया है? किसानों को १७ रुपये दिए और किसान के परिवार के लिए दिन के साढ़े तीन रुपये दिए। तो मोदी जी की सरकार ने किसानों को ये दिए और बीजेपी के मंत्री धड़ाधड़ संसद में ताली बजाते हैं।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार अंनिल अंबानी को ३० हजार करोड़ रुपये देती है, नीरव मोदी को ३५ हजार करोड़ रुपये और विजय माल्या को १०  हजार करोड़ देती है। लेकिन हिन्दुस्तान के किसानों को साढ़े तीन रुपये देती है। मोदी सरकार का यही ऐतिहासिक फैसला है?”

राहुल गांधी ने कहा कि मैं झूठा वादा नहीं करता। ”आज पटना यूनिवर्सिटी की हालत खराब है। हम सत्ता में आते ही पटना यूनिवर्सिटी को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा देंगे। बिहार शिक्षा का केंद्र होता था, आज बेरोजगारी का केंद्र है। हम बिहार को फिर गौरवशाली बनाएंगे।”

कांग्रेस नेता ने कहा -”मैं चाहता हूं कि अगली हरित क्रांति राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में हो और इसमें बिहार का नाम भी शामिल हो। मैंने राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों को कह दिया है कि किसान के लिए फ़ूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाइए। अगर आप हमें मौका दोगे तो हम बिहार के किसानों को भी समृद्ध बनाएंगे।”

वहीं तेजस्वी यादव ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की जिम्मेदारी है कि किस तरह से सहयोगी दलों को साथ लेकर चलना है, क्योंकि सबको मिलकर भाजपा को हराना है। राजद नेता ने कहा कि लोग हमसे पूछते हैं कि आप राहुल गांधी को पीएम के तौर पर स्वीकार करेंगे। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि राहुल गांधी प्रधानमंत्री के योग्य हैं। वह योग्य नेता है, सहयोगियों को लेकर कैसे चलना है, इसकी भी उनकी जिम्मेदारी है।”