नीतीश ने मुख्यमंत्री, तेजस्वी ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली

नीतीश कुमार आज 8वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बन गए। उपमुख्यमंत्री के रूप में तेजस्वी यादव के साथ उन्होंने अब से कुछ देर पहले राजभवन में पद और गोपनीयता की शपथ ली। राज्यपाल फागू चौहान ने एक सादे समारोह में दोनों को शपथ दिलाई। शपथ के बाद नीतीश ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा ‘सभी (हमारे नेताओं) से पूछ लो उनकी (भाजपा के साथ गठबंधन में) क्या हालत हुई थी’।

नेताओं से भरे पंडाल में दोपहर 2 बजे दोनों ने शपथ ली। तेजस्वी दूसरी बार उप मुख्यमंत्री बने हैं। चाचा-भतीजा की यह जोड़ी पिछली बार भी सत्ता में बनी थी, हालांकि, बाद में नीतीश भाजपा के साथ गठबंधन बनाकर अलग हो गए थे। अब उसी भाजपा के हाथों अपमानित होने का आरोप लगाकर वे आरजेडी-कांग्रेस के साथ सत्ता में आ गए हैं।

नीतीश ने शपथ के बाद कहा कि 2015 में हमें कितनी सीटें मिली थीं लेकिन भाजपा के साथ जाकर क्या हाल हुई ? जाहिर है 2024 के लोकसभा चुनाव में नीतीश यूपीए के साथ ही लड़ेंगे।

नीतीश ने मंगलवार को तेजस्वी यादव से साथ गठबंधन के स्वरूप को लेकर चर्चा की और साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी नेता राहुल गांधी को फोन करके महागठबंधन सरकार में उनका समर्थन करने के लिए आभार जताया। नीतीश अब एनडीए की जगह यूपीए का हिस्सा हो गए हैं।

भाजपा से नाता तोड़ने के बाद नीतीश ने कहा कि वे भाजपा के साथ अपमानित महसूस कर रहे थे। उन्होंने कहा – ‘काफी समय से भाजपा के रवैये से परेशानी महसूस कर रहा था और आज सब सहयोगियों ने एकमत से एनडीए से बाहर आने का समर्थन किया।’