निजी रंजिश का नतीजा था पश्चिम बंगाल का मुर्शिदाबाद हत्याकांड, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

0
805

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में हुए तिहरे हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक यह हत्याकांड निजी रंजिश का नतीजा था। इससे पहले आरएसएस/भाजपा ने हत्या के शिकार लोगों को ”अपना कार्यकर्ता” बताते हुए ममता सरकार को घेरने की कोशिश की थी, लेकिन मृतकों के परिजनों ने ही अपने राजनीति से जुड़े होने की बात को नकार दिया था।

इस तिहरे हत्याकांड के कई दिन बाद मंगलवार को मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी हुई है। पुलिस ने कहा कि हत्याकांड में इस शख्स की बड़ी भूमिका है। गिरफ्तार व्यक्ति का नाम उत्पल बेहरा बताया गया है और राजमिस्त्री का काम करता है। उसे शाहपुर इलाके के सागरदिघी से पकड़ा गया।

पुलिस का दावा है कि उत्पल बेहरा ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। इस हत्याकांड के ३६ घंटे बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने दावा किया था कि बंधुप्रकाश पाल का संबंध आरएसएस से था। हालांकि मृतक के परिवार ने इस बात से साफ़ इनकार कर दिया था।

मुर्शिदाबाद पुलिस के मुताबिक उत्पल बेहरा ने बंधुप्रकाश को जीवन बीमा की दो किस्तों के लिए पेमेंट किया था। पहली किस्त की रसीद बंधुप्रकाश ने आरोपी को दे दी थी, लेकिन दूसरी किस्त की रसीद नहीं दी थी। कुछ सप्ताह से मृतक और आरोपी के बीच झगड़ा चल रहा था, जिसके बाद आरोपी ने कत्ल करने का फैसला किया।

याद रहे एक बेहद क्रूर घटना में मुर्शिदाबाद में एक ही परिवार के तीन सदस्यों का बेरहमी से कत्ल कर दिया गया था। मृतक बंधुप्रकाश पाल पेशे से एक शिक्षक था उसे गर्भवती पत्नी और बच्चे के साथ मार दिया गया था। बच्चे की उम्र ८ साल थी।