प्रदूषण पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- केंद्र सरकार कल आपात बैठक बुलाए

राजधानी दिल्ली में लोगों की जान हलक में डाल चुके प्रदूषण को लेकर सर्वोच्च न्यायालय ने सोमवार को दिल्ली सरकार पर सवाल उठाये साथ ही प्रदूषण काबू करने के लिए दिल्ली-एनसीआर में हफ्ते भर का लॉकडाउन रखने के लिए केंद्र और संबंधित राज्य सरकारों से विचार करने को कहा।

सर्वोच्च अदालत में दिए अपने हलफनामे में दिल्ली सरकार ने पूर्ण लॉकडाउन लगाने पर सहमति दी लेकिन राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में लॉकडाउन की जरूरत जताई। सुनवाई के दौरान सर्वोच्च अदालत  ने प्रदूषण का ठीकरा किसानों पर फोड़ने पर दिल्ली सरकार को फटकार लगाई।

दिल्ली सरकार ने अपने हलफनामे में सुप्रीम कोर्ट में कहा कि वह राजधानी में पूरी तरह से लॉकडाउन लगाने के लिए तैयार है। केजरीवाल सरकार ने, हालांकि, कहा कि यह तभी प्रभावी होगा, यदि दिल्ली से सटे एनसीआर के इलाकों में भी लॉकडाउन लगाया जाए। सर्वोच्च अदालत ने अब इस मामले पर सुनवाई बुधवार के लिए निश्चित की है।

सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने प्रदूषण का ठीकरा किसानों पर फोड़ने को लेकर दिल्ली सरकार को फटकार भी लगाई। अदालत ने कहा कि तमाम हलफनामे आए हैं। हमारा मत है कि प्रदूषण का मुख्य कारण उद्योग, वाहन और निर्माण गतिविधियां हैं। पराली का रोल कुछ जगह है। टास्क फोर्स कदम उठा रही है, लेकिन आगे कौन सा कदम उठाने जा रही है ये नहीं बताया।