दिल्ली में पारा ४७, शिमला में ३० डिग्री

0
941

गर्मी ने देश भर में कहर मचा रखा है। राजधानी दिल्ली में शनिवार को पारा ४७ डिग्री तक जा पहुंचा जबकि पहाड़ों की रानी कहलाई जाने वाली शिमला में भी यह ३० डिग्री था। उधर राजस्थान के श्रीगंगानगर में तो पारा ४९.६ डिग्री जा पहुंचा है जिसे अब  तक का अधिकतम तापमान बताया गया है। तेज गर्मी से जलश्रोत जिससे पानी की किल्लत पैदा होने लगी है।  तेलंगाना में लू और भीषण गर्मी से पिछले २२ दिन में १७ लोगों की जान जा चुकी है।
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित देश के कई राज्यों में गर्मी और लू का जारी है।  राजधानी दिल्ली में गर्मी और तेज धूप का कहर अभी तीन दिन तक जारी रहेगा।
मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली में तीन जून तक तापमान ४४-४५ डिग्री के आसपास झूलता रहेगा और हीट वेव जारी रहेगी। चार जून को रात तक बादल लोगों को राहत देंगे।
पूरे उत्तर भारत में लू चल रही है। शिमला में भी तापमान ३० डिग्री को छू गया है जो वहां के मौसम के हिसाब से काफी ज्यादा है। सूबे के ऊना में तापमान ४६ डिग्री दर्ज किया गया। है उधर चंडीगढ़ में पारा ४४ डिग्री को पार कर गया है। साथ लगते हरियाणा के नारनौल में तापमान ४७ डिग्री दर्ज किया गया  है।
दिल्ली में भीषण गर्मी और लू के थपेड़ों से ऊपर चढ़ता पारा शनिवार को ४७ डिग्री पर जा पहुंचा। नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम और फरीदाबाद में भी तापमान ४५ से ४६ डिग्री के बीच दर्ज किया गया। मौसम विभाग का अनुमान है कि इस बार पारा पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ सकता है।  मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल हफ्ते भर तक गर्मी से राहत की संभावना कम ही है।
यूपी में भी लू और गर्मी कहर बरपा रहे हैं। प्रयागराज में पारा ४८ डिग्री के पार पहुंच गया। कानपुर में ४६.५, वाराणसी में ४६.३ रहा।
उधर देश के रेगिस्तानी राज्य राजस्थान के श्रीगंगानगर में पारा ४९.६ डिग्री तक पहुंच गया, जो अब तक का सबसे अधिक अधिकतम तापमान बताया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक गर्मी ने ७५ साल का रेकॉर्ड तोड़ दिया है। श्रीगंगानगर में ३०  मई, १९४४ को अधिकतम तापमान ४९. ४ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। सूबे  के चुरु में अधिकतम तापमान ४८.५ और बीकानेर में ४६.६ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।ऊना में तापमान 46 डिग्री और हरियाणा के नारनौल में पारा 47 डिग्री तक पहुंच गया.