टेनिस में जीत से भारत के 6 स्वर्ण हुए

आज कुल ४ पदक झोली में, अब तक जीते 22 पदक

0
1211
भारत ने 18वें एशियाई खेलों के छठे दिन शुक्रवार को टेनिस की डबल्स स्पर्धा में स्वर्ण जीतकर अपने स्वर्ण पदकों की संख्या ६ कर ली। रोहन बोपन्ना और दिविज सरन ने यह स्वर्णिम सफलता हासिल की।  इससे पहले रोइंग में एक स्वर्ण सहित तीन पदक जीते। इस तरह अब तक भारत के 6 स्वर्ण पदक हुए हैं। रोइंग की क्वाड्रूपुल स्कल्स स्पर्धा में भारत के स्वर्ण  सिंह, दत्तू भोकानल, ओमप्रकाश और सुखमीत सिंह ने 6 मिनट 17 सेकंड का समय निकालकर  स्वर्ण पदक जीता। इससे पहले भारत ने रोइंग में ही दो कांस्य पदक भी जीते जिससे कुल पदकों की संख्या 22 हो गयी है जिसमें 6 स्वर्ण, ४ रजत और १२ कांस्य पदक शामिल हैं।
भारत के दुष्यंत ने पुरुष लाइटवेट एकल वर्ग में ७. १८ मिनट के साथ कांस्य पदक जीता। इसके ठीक बाद लाइटवेट डबल स्कल्स में रोहित कुमार और भगवान सिंह ने भी कांस्य पदक पर कब्जा जमाया। दोनों ने रेस पूरी करने के लिए 7 मिनट 4 सेकंड का समय लिया। दुष्यंत का एशियाई खेलों में दूसरा कांस्य पदक है। उन्होंने 2014 में इंचियोन एशियाड में भी कांस्य पदक जीता था।
साल २०१० ग्वांगझू एशियाड में भारत के बजरंग लाल ठाकुर ने सिंगल स्कल्स में स्वर्ण पदक जीता था जिसके बाद भारत ने अब जाकर रोइंग की सिंगल्स स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता है। आज ३०० मीटर एयर रायफल शूटिंग में भारत के अमित कुमार और हरजिंदर सिंह पदक जीतने से चूक गए। हालांकि तैराकी में भारत के संदीप सेजवाल हीट राउंड में छठा स्थान हासिल कर फाइनल राउंड में पहुंच गए।
वैसे १० मीटर एयर पिस्टल शूटिंग में भारत की उम्मीद बची है। कॉमनवेल्थ गेम्स में देश की दोनों पदक विजेता हिना सिद्धू और मनु भाकर ने फाइनल राउंड में जगह बनाई है।
दीपा करमाकर भी आज बीम बैलेंस इवेंट में हिस्सा लेंगी। बैडमिंटन में किदांबी श्रीकांत राउंड ऑफ 32 में हॉन्गकॉन्ग के वॉन्ग विंग से भिड़ेंगे। मुक्केबाजी में 60 किलो वर्ग में शिव थापा और 69 किलो वर्ग में मनोज कुमार राउंड ऑफ 16 में पहुंचने के लिए भिड़ेंगे। हॉकी के पुरुष वर्ग में भी शाम ६ः३० बजे भारत का जापान से मुकाबला है।