‘झूठ और धमकाने वाली तूफानी सरकार है यह’

0
240

सोलहवीं लोकसभा में कांग्रेस संसदीय पार्टी की अंतिम बैठक में बोलती हुई कांग्रेस की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने बुधवार (13 फरवरी) को कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार झूट, और धमकाने वाली तूफानी सरकार रही है। यही इसका दर्शन रहा है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में नई ऊर्जा और ताकत का संचार पार्टी के नए अध्यक्ष की सक्रियता से हुआ है। इससे विपक्ष में थोड़ी घबराहट भी है। कांग्रेस पूरे आत्मविश्पास और संकल्प के साथ चुनाव मैदान में उतरेगी।  पार्टी के पुराने और नए नेता और कार्यकर्ता इस बार अच्छे कामयाब भी नजऱ आएंगे। कांग्रेस में हमेशा एकता, आत्म त्याग और आत्म अनुशासन पर ज़ोर दिया जाता रहा है।

काग्रेस अध्यक्ष राहुल ने कहा कि राफेल जेट विमान सौदे में प्रधानमंत्री ने जो झूठ तूफानी तरीके से बोला है वह गली-गली में गूंज रहा है और लोग उसकी पहचान ‘चैकीदार ‘ शब्द  आते ही करते हैं। हम वैचारिक और चुनावी लड़ाई में भाजपा को परास्त करेंगे। पूरे देश में आज बदलाव की फिजां बन गई है।

सोनिया गांधी ने कहा आज देश में आर्थिक स्थिति बहुत खराब है और हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था  की चूलें मोदी सरकार ने दरका रखीं है। हमारे संविधान के नियमों और व्सवस्थाओं को मोदी सरकार ने लगातार निशाना बनाया है। इसे ठीक किया जाना बहुत ही ज़रूरी है। तमाम लोकतांत्रिक संस्थानों की इस सरकार ने क्षति की है। राजनीतिक और बुद्धिजीवियों ने जब इसका विरोध किया तो उनके पीछे इस सरकार ने अपनी एजेंसियां लगा दी जिससे वे दबाव में आ जाएं। अभिव्यक्ति की आज़ादी, मीडिया पर अंकुश के विभिन्न तरीके इस सरकार ने अमल में लाए हैं। पूरे देश में डर और संघर्ष का माहौल है।

मुलायम का नरेंद्र मोदी को फिर प्रधानमंत्री बनने का आशीर्वाद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब लोकसभा में बुधवार (13 फरवरी) को अपने विदा भाषण में बुजुर्गों के प्रति आभार जताते हुए बुजुर्ग सांसद मुलायम सिंह यादव के प्रति कृतज्ञता जताई। उस पल मुलायम काफी भावुक हो  उठे। उन्होंने नरेंद्र मोदी को फिर प्रधानमंत्री होने का आशीर्वांद दिया। उनकी इस प्रतिक्रिया से कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और विपक्ष के दूसरे नेता खासे विस्मित हुए।

वरिष्ठ सांसद मुलायम सिंह यादव  ने नमन करते हुए कहा,’मेरी कामना है कि प्रधानमंत्री तो आप फिर से बने।’ उनके यह कहते ही भाजपा सांसदों ने मेज थपथपा कर स्वागत किया। उनके साथ ही बैठी सोनिया गांधी ने मुस्कुराते हुए उन्हें देखा।  मुलायम सिंह ने कहा, यहां जितने भी बैठे हैं वे फिर जीत कर लौटें। मुलायम सिंह की कामना और विभिन्न सांसदो की क्रिया -प्रतिक्रिया सदन से बाहर भी गूंजती रही।