झारखंड : पहले चरण में ६२.८७ फीसदी वोट

0
557

झारखंड विधानसभा चुनाव के पहले चरण में ६२.८७ फीसदी वोट पड़े हैं। राज्य की १३ सीटों के लिए रविवार सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया था और राज्य की संवेदनशीलता को देखते मतदान का समय शाम ३.४५ बजे तक रखा गया था। प्रथम चरण में कुल १८९ उम्मीदवार मैदान में हैं।

जानकारी के मुताबिक आज कुल ४८९२ मतदान केन्द्रों पर मतदान हुआ  जिनमें १२६२ मतदान केन्द्रों से वेबकास्टिंग की गयी। मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनय कुमार चौबे ने बताया कि इन १३ सीटों पर शांतिपूर्ण चुनाव हुआ है।

प्रथम चरण के मतदान के लिए इसे बंपर वोटिंग है। नक्सली इलाकों में बड़ी संख्या में लोग वोट डालने के लिए बाहर निकले। नक्सल प्रभावित इलाकों में इस बार बंपर वोटिंग हुई है। चतरा में एक बजे तक ही ४६ प्रतिशत मतदान हो चुका था जबकि एक और नक्सल प्रभावित क्षेत्र गुमला में ४१ फीसदी वोटिंग हुई, विशुनपुर में ४१ प्रतिशत, लातेहार में ५२ प्रतिशत और डाल्टनगंज में ४५ प्रतिशत मतदान हुआ था।

इन हलकों में  शहरी क्षेत्र में सिर्फ ३०७ जबकि ग्रामीण इलाके में शेष ४५८५ मतदान केंद्र थे। मतदान के मद्देनजर राज्य में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए। राज्य में पहले चरण में भवनाथपुर सीट पर सबसे ज्यादा २८ उम्मीदवार चुनावी मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं जबकि सबसे कम  प्रत्याशी चतरा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।

घटनाएं : गुमला और डालटनगंज से हिंसक झड़प हुई जबकि गुमला में नक्सलियों ने वोटिंग को बाधित करने के लिए लैंडमाइन विस्फोट किया। डालटनगंज में कांग्रेस प्रत्याशी पर वोटिंग के दौरान पिस्टल लहराने का आरोप लगा है। कांग्रेस प्रत्याशी का कहना है कि उन्होंने आत्मरक्षा में पिस्टल निकाली थी।

पलामू में मतदान के दौरान भाजपा और कांग्रेस के समर्थकों के बीच झड़प हुई। इस मामले को चुनाव आयोग ने संज्ञान लिया है और जांच का निर्देश दे दिया है। डाल्टनगंज सीट से कांग्रेस उम्मीदवार केएन त्रिपाठी ने पिस्टल लहराई है। इसके बाद नाराज लोग उग्र हो गए और कांग्रेस प्रत्याशी पर पत्थरबाजी शुरू कर दी। कांग्रेस प्रत्याशी का कहना है कि उन्होंने आत्मरक्षा में पिस्टल निकाली थी।