जाधव से मिले भारतीय डिप्टी हाई कमिश्नर अहलूवालिया

आईसीजे का था आदेश, पाकिस्तान जेल में बंद हैं कुलभूषण जाधव

0
799

इंटरनैशनल कोर्ट आफ जस्टिस (आईसीजे) के आदेश के बाद आखिर सोमवार को पाकिस्तान सरकार ने उसकी जेल में बंद भारतीय कुलभूषण जाधव से भारत के डिप्टी हाई कमिश्नर गौरव अहलूवालिया को मिलने की इजाजत दे दी। करीब आधा घंटा पहले अहलूवालिया जाधव से मिले हैं।

इस मुलाकात ें क्या जानकारी सामने आती है यह कुछ देर में पता चलेगा जब अहलूवालिया मुलाकात करके लौटेंगे। करीब २ घंटे का समय मुलाकात के लिए पाकिस्तान सरकार ने दिया है। अहलूवालिया जाधव से मिलने के लिए करीब एक घंटा पहले इस्लामाबाद स्थित पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के दफ्तर पहुँच गए थे।

भारत ने उम्मीद जताई कि अच्छे माहौल में मुलाकात संभव बनाने के लिए पाकिस्तान से सहयोग मिलेगा। गौरतलब है कि पाकिस्तान ने रविवार को कहा था कि वह कुलभूषण जाधव को इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस की फैसले के मुताबिक  सोमवार को कॉन्सुलर एक्सेस प्रदान करेगा। याद रहे जाधव मार्च २०१६ से पाकिस्तान जेल में बंद हैं। एक बार पहले पाकिस्तान ने जाधव के परिवार को शीशे के आर-पार मिलने और इंटरकॉम से बात की इजाजत दी थी। भारत ने इसे कौंसिलर एक्सेस मानने से इंकार कर दिया था।

जाधव पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारी हैं और पाकिस्तान ने उन्हें कथित जासूसी और आतंकवाद के आरोप में पकड़ा था जिसके बाद वहां की सैन्य अदालत ने जाधव को मौत की सजा सुनाई थी। पिछले महीने भी पाकिस्तान ने भारत को कुलभूषण जाधव का कॉन्सुलर एक्सेस देने का प्रस्ताव दिया था जिसके बाद भारतीय विदेश मंत्रालय इ प्रवक्ता ने कहा था कि इसपर गौर किया जा रहा है। साथ ही भारत ने कहा था कि जाधव को बिना किसी निगरानी के कॉन्सुलर एक्सेस मिले।

याद रहे इसी २१ जुलाई को आईसीजे ने भारत के पक्ष में फैसला सुनाते हुए कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक लगाने के साथ-साथ भारत को कॉन्सुलर एक्सेस का अधिकार भी दिया था।