छठे चरण में ६३.०३ फीसदी मतदान

0
717
लोकसभा चुनाव के छठे चरण के तहत रविवार को सात राज्यों में करीब ६३.०३   फीसदी मतदान हुआ है। पश्चिम बंगाल में सबसे ज्यादा करीब ८०.१६ फीसदी वोटिंग हुई है जबकि राजधानी दिल्ली में ५९.०८ फीसदी मतदान हुआ है।
अभी तक की जानकारी के मुताबिक बंगाल और बिहार में कुछ जगह हिंसा को छोड़कर अन्य जगह मतदान शांतिपूर्ण रहा है। बंगाल में दो राजनीतिक कार्यकर्ताओं की मौत हुई है। आज हरियाणा में ६२.९१ फीसदी, उत्तर प्रदेश में ५४.१२ फीसदी, बिहार में ५९.३८ फीसदी, झारखंड में ६५.०१फीसदी और मध्य प्रदेश में ६०.०६ फीसदी मतदान रेकॉर्ड किया गया है।
लोकसभा चुनाव का यह चरण भाजपा के लिये कड़ी परीक्षा है क्योंकि २०१४ के चुनाव में भाजपा ने इन ५९ में से ४५ सीटें जीतीं थीं जबकि तृणमूल कांग्रेस को आठ, कांग्रेस  को दो जबकि समाजवादी पार्टी और लोजपा को एक-एक सीट पर जीत मिली थी।  भाजपा ने २०१४ के चुनाव में इस चरण में उत्तर प्रदेश की १४ में १३ सीटों पर जीत दर्ज़ की थी। आजमगढ़ में सपा नेता मुलायम सिंह यादव को जीत मिली थी। बाद में २०१८ में फूलपुर और गोरखपुर संसदीय सीट पर हुए उपचुनाव में भाजपा को हार का सामना करना पड़ा था। अब बसपा-सपा-रालोद गठबंधन इस सीट पर अपनी जीत की उम्मीद  कर रहा है।
उत्तर प्रदेश की १४ सीटों में सुलतानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, इलाहाबाद, अंबेडकरनगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संत कबीर नगर, लालगंज, आजमगढ़, जौनपुर, मछलीशहर और भदोही, बिहार की आठ सीटों में वाल्मीकिनगर, गोपालगंज, सीवान, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, शिवहर, महाराजगंज और वैशाली, मध्य प्रदेश की आठ सीटों में मुरैना, भिंड, ग्वालियर, गुना, सागर, विदिशा, भोपाल और राजगढ़, पश्चिम बंगाल की आठ सीटों में तामलुक, कांठी, घाटल, झारग्राम, मेदिनीपुर, पुरुलिया, बांकुरा और बिष्णुपुर, झारखंड की चार सीटों में गिरिध, धनबाद, जमशेदपुर और सिंहभूम शामिल हैं। हरियाणा की सभी १० और दिल्ली की सभी सात सीटों पर मतदान हुआ है।