चक्रवात ताउते ने गुजरात में तबाही मचाई, 13 लोगों की मौत

गुजरात में चक्रवात ‘ताउते’ ने महाराष्ट्र में तबाही मचाने के बाद गुजरात में कहर बरपाया है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अकेले गुजरात में ही कम से कम 3 लोगों की मौत हो चुकी है। तूफान के चलते बड़ी तादाद में पेड़ गिरे और जगह-जगह बिजली की आपूर्ति ठप हो गई। महाराष्ट्र के साथ ही गुजरात के तटीय इलाकों में भारी बारिश से काफी नुकसान हुआ है। इस बीच, भारतीय नौसेना व तटरक्षक बलों ने मुंबई के निकट अरब सागर में फंसे दो जहाजों में मौजूद 317 लोगों को सुरक्षित बचा लिया।

भारतीय मौसम विभाग ने कहा कि ताउते गुजरात के तट से बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान के तौर पर आधी रात के करीब गुजरा और धीरे-धीरे कमजोर होकर गंभीर चक्रवाती तूफान तथा बाद में और कमजोर होकर अब चक्रवाती तूफान में बदल गया है। इसका असर एनसीआर और उत्तर भारत में भी देखने को मिल सकता है। इन इलाकों में 60 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं और तेज बारिश की भी संभावना जताई गई है।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि ताउते के चलते 16000 से ज्यादा घरों को नुकसान पहुंचा, 40 हजार से ज्यादा पेड़ और 70 हजार से ज्यादा बिजली के खंभे उखड़ गए जबकि 5951 गांवों में बिजली गुल हो गई। रुपाणी बताया कि चक्रवात के कारण मरने वालों का आधिकारिक आंकड़ा 13 का है। इसे अब तक का सबसे बुरा चक्रवात बताया गया। कई इलाकों में 150 से 175 मिलीमीटर तक बारिश दर्ज की गई।