खूब जुटी राहुल गांधी के रोड शो में भीड़

मध्य प्रदेश में फूंका चुनावी बिगुल, नरम हिंदुत्व की झलक

0
964

कांग्रेस ने भाजपा को उसके ही सबसे बड़े हथियार के साथ मात देने की तैयारी कर ली लगती है। सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में रोड शो से पहले पुजारियों के गूंजते मंत्रोच्चारण और राहुल की कन्याओं के पूजन कर उन्हें तिलक लगाने से साफ़ है कांग्रेस भाजपा को बेचैन करने की तैयारी में है। वैसे १८ किलोमीटर लम्बे रोड शो में खूब भीड़ जुटी और यदि यह वोट में तब्दील होती है तो नतीजे भाजपा को चिंता में डालने वाले हो सकते हैं।

राहुल गांधी ने जगह-जगह युवाओं के साथ सेल्फी ली और एकाध जगह वे उनके साथ समौसे-पकौड़े खाते भी दिखे। लोगों में राहुल के प्रति उत्सुकता थी और राहुल भी इसे देख प्रसन्न दिखे। यह अलग बात है कि भाजपा ने राहुल की कैलाश मानसरोवर यात्रा की तरह भोपाल के रोड शो से पहले तिलक-अक्षत लगाने को भी ”तमाशा” बताया है। वैसे भाजपा नेताओं के चेहरे पर रोड शो में जबरदस्त भीड़ से चिंता की लकीरें भी दिखीं। राहुल के स्वागत में समर्थकों ने उनके रोड शो के पूरे मार्ग पर जो पोस्टर और बैनर लगाये हैं, उनमें   राहुल को ”शिव भक्त” बताया गया है। एक पोस्टर में वे शिवलिंग पर जल अर्पित करते दिख रहे हैं।

इस बीच राहुल ने जहाँ पार्टी कार्यकर्ताओं की खूब प्रशंसा की वहीं मोदी सरकार पर भी जमकर निशाना साधा। गांधी ने कहा कि टिकट उन्हें दी दी जाएगी, जो पार्टी के साथ लंबे समय से जुड़े हैं । यह भी कहा कि पैराशूट से आने वालों को टिकट नहीं मिलेगा। ५-६ साल पार्टी का काम करके ही टिकट मिलेगा। कहा कि सिर्फ टिकट के लिए कोई कांग्रेस के साथ नहीं जुड़ सकता उन्हें पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ संघर्ष करना होगा। जमीनी कार्यकर्ता ही चुनाव में उतारे जायेंगे। गांधी ने रोड शो के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा सरकार पर निशाना साधा। कहा कि वे सत्ता में आने के बाद गब्बर सिंह टैक्स को खत्म करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि देश का चौकीदार तेल की कीमत पर चुप क्यों हैं? जब पूरे विश्व में तेल की कीमत कम हो रही है तो यह भारत में क्यों बढ़ रही है?

उन्होंने नोटबन्दी, जीएसटी, राफेल विमान सौदे और पेट्रोल की बढ़ती कीमतों पर प्रधानमंत्री को जमकर घेरा। राहुल ने नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, विजय माल्या के साथ अनिल अंबानी का भी नाम लिया। वर्तमान सरकार की उद्योगपतियों को दी क़र्ज़ माफी पर भी सवाल उठाया। राहुल ने कहा – ” चार साल पहले प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठते समय कहा गया था कि मैं देश का चौकीदार हूँ। लेकिन आज समझ में आ रहा है कि यह चौकीदार तो चोरों से मिल गया है”।

राहुल ने आरोप लगाया कि मोदी ने अपने मित्र अनिल अंबानी को फ़ायदा पहुंचाने के लिए सरकारी कम्पनी एचएएल से छीन कर ठेका उन्हें दिलवा दिया। उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि अनिल अंबानी पर सरकारी बैंकों का ४५ हजार करोड़ का कर्ज है। वह उनके साथ पेरिस भी गए थे। विजय माल्या को लेकर कहा कि माल्या ने लंदन में कहा है कि वह तो वित्तमंत्री से मिलकर और उन्हें बताकर देश से भागा था। ”खुद वित्तमंत्री अरुण जेटली ने भी माना है कि माल्या उनसे मिला था।वित्तमंत्री के इशारे पर माल्या का अरेस्ट वारंट बदल दिया गया। वह देश की सरकारी बैंकों का नौ  हजार करोड़ लेकर भाग गया”।