कौन है अच्छा डॉक्टर? | Tehelka Hindi

ज्ञान है तो जहान है A- A+

कौन है अच्छा डॉक्टर?

मैं प्रायः इस कॉलम में सलाह दिया करता हूं कि ‘अच्छे डॉक्टर’ की सलाह लें. कई लोगों ने पूछा भी है कि आखिर ‘अच्छा डॉक्टर’ पहचानें कैसे. क्या बड़ी-सी कार से उतरने वाला, लकदक चैंबर में बैठने वाला, फिल्मी हीरो जैसा दमकने वाला, किसी मार्केटिंग मैनेजर वाली बनावटी मुस्कान और मीठी भाषा बरतने वाला डॉक्टर ‘अच्छा डॉक्टर’ कहलाएगा? क्या अखबारों, मीडिया तथा कॉन्फ्रेंस में लगातार महिमामंडित होने वाला ‘अच्छा डॉक्टर’ होता है? …मुझे क्षमा करेंगे. मैं कदाचित जुगाड़ तथा बाजार की प्रतिस्पर्धा में मरीजों की तरफ से आंखें मूंदकर ‘बड़ा डॉक्टर’ बनने के लिए भागने वालों की बात नहीं करता हूं.

माना कि हर सदी की अपनी चुनौतियां होती हैं पर हर सदी में ‘अच्छा डॉक्टर’ तो ‘अच्छा’ ही रहता है. याद रखें कि प्रश्न आपके स्वास्थ्य का है. ‘अच्छे डॉक्टर’ को पहचानेंगे तो डॉक्टर मजबूरी में ही सही, ‘अच्छे’ बनेंगे. वैसे ‘अच्छे डॉक्टर’ की पहचान सरल है. डॉक्टरों से भी मेरा निवेदन रहेगा कि वे इस लेख को पढ़ें. दिल पर हाथ रखकर स्वयं निर्णय करें कि क्या वे ‘अच्छे डॉक्टर’ हैं. न हों तो बनने की कोशिश करें. वरना लानत है. डॉक्टर न बनकर आप किसी और धंधे में उतर जाते न! सफल और मालदार तो अन्यत्र भी हो सकते हैं. आइए, देखें कि कौन-सी बातें हैं जो डॉक्टर को ‘अच्छा’ बनाती हैं.

डॉक्टर के पास जाने से पहले उसके बारे में इन प्रश्नों के उत्तर खोजने का प्रयास करें:

1. क्या वह सहजता से उपलब्ध होता है? 
जो मुझे बीमार होने पर उपलब्ध हो जाए, वह मेरे लिए अच्छा डॉक्टर है. यहां मैं गली, मोहल्ले में दुकान सजाए नीम हकीम की बात नहीं कर रहा. डॉक्टर ज्ञानी हो पर मिल जाए. घंटों इंतजार कराए, समय देकर गायब हो जाए, हर माह घर से बाहर ही रहे, फोन ही न उठाए, मिलने का कोई सिस्टम ही न हो, उस डॉक्टर पर निर्भर न रहें. जो दो दिन बाद शाम चार बजे आने को कहे तथा मिल जाए, वह डॉक्टर अच्छा है. बजाय उसके जो यह कहे कि आप तो कभी भी आ जाइए!

Pages: 1 2 Single Page
Type Comments in Indian languages