कोटा अस्पताल में बच्चों की मौत पर राजस्थान सरकार को एनसीपीसीआर का नोटिस

0
701

राजस्थान के एक अस्पताल में पिछ्ले एक महीने में ९१ बच्चों की मौत पर राजनीतिक बयानबाजी के बीच राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने इस मामले में राज्य सरकार को नोटिस जारी किया है और सरकार से जवाब माँगा है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक एनसीपीसीआर ने राजस्थान सरकार को नोटिस जारी कर तीन दिन में जवाब तलब किया है। साथ ही आयोग ने कोटा के सीएमओ बीएस तंवर को इस मामले पर जवाब देने के लिए ३ जनवरी को आयोग के कार्यालय में हाजिर होने   को कहा है।

मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने बच्चों की मौत को लेकर पिछले दिनों एक ब्यान भी  दिया था कि सरकार की कोशिशों के कारण पिछले सालों के मुकाबले अब कम मौतें हुई हैं। गहलोत ने कहा कि एक भी बच्चे की मौत होना दुर्भाग्यपूर्ण है।

उधर विपक्षी भाजपा ने प्रदेश सरकार पर बच्चों के इलाज की समुचित व्यवस्था नहीं होने का आरोप लगाया है। इसपर कांग्रेस ने उसे  इस मामले में राजनीति न करने की नसीहत दी है। याद रहे कोटा के जेके लोन अस्पताल में अब तक ९१ बच्चों की मौत हो चुकी है।

अस्पताल प्रशासन ने भी मौतों की जांच के एक कमेटी गठित की है। उसकी तरफ से कहा गया है कि अस्पताल के सारे उपकरण सुचारू हैं लिहाजा अस्पताल की तरफ से लापरवाही का सवाल ही पैदा नहीं होता।