केंद्र सरकार के खिलाफ सड़क पर किसान, लखीमपुर में प्रदर्शन शुरू

पिछले साल भाजपा नेता और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा के कथित तौर पर चार किसानों सहित आठ लोगों को अपनी गाड़ी के नीचे रौंद देने की घटना के बाद लम्बे समय तक चर्चा में रहे यूपी के लखीमपुर खीरी में एक बार किसान सड़क पर उत्तर आये हैं। किसानों का मोदी सरकार के खिलाफ 72 घंटे का विरोध प्रदर्शन गुरुवार सुबह से आरंभ हो गया। महिलाओं सहित करीब 20 हजार किसान इस प्रदर्शन में जुटे हैं। पंजाब के किसान भी इस प्रदर्शन में शामिल हैं।

संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में न्याय की मांग करते हुए 18 से 20 अगस्त तक मोदी सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन की घोषणा की है। आज इस प्रदर्शन के पहले दिन किसान नेताओं राकेश टिकैत, दर्शन पाल और जोगेंद्र उग्रहान ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त करने की मांग की जिनके बेटे आशीष पर किसानों सहित आठ लोगों को अपनी गाड़ी के नीचे रौंद देने का आरोप आरोप है और जिसे लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में गिरफ्तार किया गया था।