कार्यकर्ता ईवीएम केंद्रों पर सतर्कता से डटे रहें : प्रियंका

ऑडियो सन्देश भेज कर एग्जिट पोल से निराश न होने को कहा

0
513

ज्यादातर एग्जिट पोल्स में भाजपा (एनडीए) को बहुमत मिलने के दावों के बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं को ऑडियो संदेश भेजकर इन दावों को नजरअंदाज करने और ईवीएम केंद्रों में सतर्कता से डटे रहने को कहा है। प्रियंका ने कहा कि इन दावों से कतई निराश न हों और स्टार्क रहें।
अपने ऑडियो सन्देश में प्रियंका गांधी ने कहा – ”ऐसे सर्वे आपकी हिम्मत को तोड़ने के लिए दिखाए जाते हैं। उन पर भरोसा मत कीजिए। स्ट्रॉन्ग रूम और काउंटिंग रूम के पास सतर्क रहिएगा। मुझे पूरा भरोसा है कि हमें मेहनत का फल मिलेगा।”
कांग्रेस महासचिव प्रियंका का यह बयान मिर्जापुर से कांग्रेस उम्मीदवार ललितेश पति त्रिपाठी के पत्र के बाद आया है। इसमें त्रिपाठी ने चुनाव आयोग को शिकायत की है कि जिस स्ट्रॉन्ग रूम में सारी ईवीएम रखी हैं, वहां पहले से ही ३०० अतिरिक्त ईवीएम पहुंचाई जा चुकी हैं।
विपक्ष पहले ही एग्जिट पोल को नकार चुका है। वीवीपैट में भी ५० प्रतिशत पर्ची मिलान को लेकर विपक्ष मांग कर चुका है। मतदान के सातवें चरण के बाद ज्यादातर एग्जिट पोल्स में एनडीए को बहुमत के साथ केंद्र में दोबारा सरकार बनाते दिखाया गया है। हालांकि, विपक्षी नेताओं ने कहा है कि उन्हें पूर्वानुमानों पर भरोसा नहीं है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सबसे पहले एग्जिट पोल्स के नतीजों को नकारा। इन्हें खारिज करने वालों में आप नेता संजय सिंह, कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी, कांग्रेस नेता राशिद अल्वी, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी और राजद नेता तेजस्वी यादव भी शामिल हैं।
ममता ने तो यह आरोप भी लगाया है कि एग्जिट पोल से माहौल बनाकर भाजपा कथित तौर पर ईवीएम मशीनों को बड़े पैमाने पर बदलने की योजना बना रही है। मंगलवार को  की हेराफेरी की ख़बरें देश में छाई रही हैं और कुछ वीडियोस में ईवीएम में गड़बड़ के दावे किये गए हैं। हालाँकि चुनाव आयोग ने इन आरोपों को गलत बताया है।