कांग्रेस के भारत बंद का व्यापक असर

एम्बुलेंस न मिलने से बिहार में बच्ची की मौत, कुछ जगह हिंसा की ख़बरें

0
636
पेट्रोल और डीजल की कीमतों की आसमान छूती कीमतों और रूपये के अवमूल्यन के विरोध में कांग्रेस और उसके सहयोगी विपक्ष के भारत बंद का देश भर में व्यापक असर दिखा है। दिलचस्प यह है कि कीमतों के विरोध में देशव्यापी बंद के बावजूद सोमवार को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में दोबारा बढ़ोतरी की गयी। कांग्रेस की बंद काल को २१ दूसरे विपक्षी दलों का भी समर्थन मिला है। बिहार में एक बीमार बच्ची को एम्बुलेंस न मिलने से उसकी मौत हो गयी।
दिल्ली में आंदोलन की अगुआई कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने की। उन्होंने कैलाश मानसरोवर की यात्रा में वहां से लाया पवित्र जल राजघाट में महात्मा गांधी की समाधि पर अर्पित किया। यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांघी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, बिहार के नेता शरद यादव, माकपा नेता और अन्य नेताओं सहित कई बड़े नेता भी प्रदर्शन में शामिल हुए। राहुल ने मार्च की अगुवाई की।
इन सब के बीच एक बार फिर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा हुआ है। आज की मौजूदा समय में पेट्रोल का रेट 23 पैसे तो डीजल का रेट 22 पैसे प्रति लीटर बढ़ गया है। दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 80.73 रुपये और डीजल का दाम 72.83 रुपये हो गया है। वहीं मुंबई में पेट्रोल का रेट 88.12 रुपये हो गया तो आज हुई बढ़ोत्तरी के बाद डीजल 77.32 रुपये प्रति लीटर हो गया।
उधर मुंबई में वरिष्ठ कांग्रेस नेता संजय निरुपम को गिरफ्तार कर लिया गया। कुछ जगह तोड़-फोड़ की भी ख़बरें मिलीं हैं। वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने पिछले कल अपने कार्यकर्तों से अपील की थी वे किसी भी तरह की हिंसा में हिस्सा न लें और तोड़-फोड़ न करें। रिपोर्ट्स के मुताबिक आरजेडी के व्यापक प्रभाव वाले बिहार में हिंसा की घटनाएं बंद के दौरान हुई हैं।
प्रदर्शनों के दौरान देश के कुछ और हिस्सों से भी हिंसा और तोड़ फोड़ की सूचना मिली हैं। मुंबई में ”रेल रोको” की अगुआई करते हुए मुबंई प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम को गिरफ्तार किये जाने की खबर है। उधर बिहार के जहानाबाद में एंबुलेंस न मिलने से एक बच्ची की इलाज न होने से मौत हो गई   बीमार बच्ची को इलाज के लिए डॉक्टर के पास ले जाने के लिए बंद के कारण परिजनों को समय पर एंबुलेंस नहीं मिली।
उधर बिहार की राजधानी पटना में पप्पू यादव के समर्थकों की तरफ से तोड़फोड़ और हिंसा किए जाने की सूचना है। यादव की जनअधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के कार्यकर्ताओं ने पटना के राजेंद्र नगर रेलवे टर्मिनल के बाहर रेलवे की बस को क्षतिग्रस्त किया, लाठियों और पत्थरों से उसके शीशे तोड़ डाले।
बंद के दौरान गुजरात के भरूच में अहमदाबाद-मुंबई नेशनल हाईवे पर जाम लगा रहा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हाईवे पर टायर जलाए, जिसके कारण कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया।
महाराष्ट्र में विपक्ष का भारत बंद बेहद आक्रामक रूप से आगे बढ़ रहा है। राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के कार्यकर्ताओं ने पुणे में कई बसों में पत्थरबाजी की।
दिल्ली-कोलकाता नैशनल हाईवे पूरी तरह से जाम है और वहां हजारों गाड़ियां फंसी हैं। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन जारी है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मध्यप्रदेश के उज्जैन में पेट्रोल पंप में तोड़फोड़ की। इस दौरान पुलिसकर्मी को भी पीटा गया। भाजपा के असर वाले पूर्वोत्तर के राज्यों में भी भारत बंद का व्यापक असर दिखा है। कांग्रेस ने गुवाहाटी में सड़कों पर उतर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया है।
बिहार के पटना में पप्पू यादव के समर्थकों ने बस में तोड़फोड़ की अपने समर्थकों के साथ ट्रेन को रोका। यहां राजेंद्र नगर रेलवे टर्मिनल के बाहर बसों पर पत्थरों और लाठी से हमला किया गया। गुजरात के भरुच में बसों को रोकने के लिए लोगों ने सड़कों पर जलाए टायर जलाये।
उधर दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने पार्टी कार्यकर्ताओं से बंद को सफल बनाने की अपील की। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया है कि बंद के दौरान किसी प्रकार की हिंसा न हो। उन्होंने कहा कि कांग्रेस महात्मा गांधी के आदर्शों पर चलने वाली पार्टी है और आम आदमी को कोई तकलीफ न हो। कांग्रेस ने दावा किया है कि ‘भारत बंद’ को समाजवादी पार्टी , बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, डीएमके, राष्ट्रीय जनता दल, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, जनता दल सेक्युलर, राष्ट्रीय लोकदल, झारखंड मुक्ति मोर्चा, एमएनएस और कई अन्य दल समर्थन कर रहे हैं।
इस बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि वह महंगाई और पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के विरोध में जरूर हैं, लेकिन वह बंद के समर्थन में नहीं हैं। सुरक्षा के मद्देनजर देश भर में  संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त बल तैनात किए गए हैं।