कांग्रेस की किसान क़र्ज़ माफी धोखा : मोदी

अपने संसदीय हलके वाराणसी में किये शिलान्यास और उदघाटन

0
904
देश भर किसानों की ख़राब होती हालत पर गंभीर चिंतन के बीच शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल के विधानसभा चुनाव में खोये तीन राज्यों राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की किसान क़र्ज़ माफी की योजना की खिल्ली उड़ाते हुए इसे सिर्फ ”वोट चुराने का हथकंडा” बताया। दिलचस्प यह भी रहा कि एनडीए के यूपी में दो सहयोगियों ने भाजपा पर अनदेखी का आरोप लगते हुए मोदी के आजके दोनों कार्यक्रमों का वहिष्कार किया।
गाजीपुर और वाराणसी के दौरे पर रहे मोदी कांग्रेस पर जमकर बरसे। साथ ही हाल में बनीं कांग्रेस की तीन सरकारों की किसान कर्जमाफी पर भी जमकर निशाना साधा। मोदी ने कहा कि कर्नाटक में तो कांग्रेस ने लाखों किसानों की कर्जमाफी की बात कहकर उनके वोट चुराए और पिछले दरवाजे से सरकार बनाने के बाद उसने कर्जमाफी को लेकर कुछ खास नहीं किया।  ”कांग्रेस ने वहां के महज ८०० किसानों को ही कर्जमाफी का फायदा पहुंचाया।  ये कैसा खेल, ये कैसा धोखा है।”
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से ”चौकीदार चोर है” के नारे का जवाब देते हुए मोदी ने कहा – ”आपके चौकीदार ने बहुत ईमानदारी से आपके लिए दिन-रात एक किया है  चौकीदार की वजह से कुछ चोरों की नींद उड़ी हुई है।  कुछ दिनों में इन चोरों को सही जगह पहुंचाएंगे।”
मोदी शाम को गाज़ीपुर के बाद अपने संसदीय हलके वाराणसी पहुंचे जहाँ उन्होंने अंतरराष्ट्रीय चावल अनुसंधान केंद्र का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने वहां के वैज्ञानिकों से बातचीत कर अनुसंधान केंद्र के बारे में जानकारी   ली। मोदी ने कहा कि काशी में परिवर्तन अब दिखने लगा है। ”दिव्य काशी का स्वरूप अब और भव्य होता जा रहा है।”
बाद में मोदी ने बड़ालालपुर में पंडित दीनदयाल हस्तकला संकुल में एक जनपद एक उत्पाद परियोजना की प्रदर्शनी में शिरकत की। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का एक जनपद एक उत्पाद प्रयोग मेक इन इंडिया का ही विस्तार है।