कश्मीर से रोहतांग तक बर्फबारी

भूस्खलन के बाद जम्मू-श्रीनगर, रोहतांग मार्ग बंद, शिमला में बारिश

0
296

सर्दियों ने पूरी दस्तक दे दी है। दो राज्यों जम्मू-कश्मीर और हिमाचल में शनिवार को बर्फबारी हुई है। भूस्खलन के बाद जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग बंद हो गया है जबकि हिमाचल में रोहतांग दर्रा भी बंद हो गया है।

जम्मू-कश्मीर के ऊपरी इलाकों में शनिवार को बर्फबारी जबकि निचले इलाकों में बारिश हुई। यही हाल हिमाचल का है जहाँ शिमला के नारकंडा से लेकर किन्नौर-रोहतांग तक खूब बर्फ पडी है। दोनों राज्यों में तापमान काफी नीचे चला गया है और कड़ाके की ठण्ड पड़ने लगी है। शिमला में बारिश से तापमान अचानक नीचे चला गया है। कश्मीर और लद्दाख के जोजिला दर्रा, द्रास, करगिल, सोनमर्ग, पहलगाम और गुलमर्ग में ताजा बर्फबारी हुई है। जम्मू के मैदानी इलाकों में बारिश हो रही है।

श्रीनगर में न्यूनतम तापमान १.८ डिग्री सेल्सियस पहुँच गया जबकि पहलगाम में ०.४ डिग्री रहा। उधर करगिल का तापमान शुन्य से भी नीचे ४.८ डिग्री नीचे दर्ज़ किया गया है। भूस्खलन के बाद  शनिवार को जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग बंद हो गया। जोजिला दर्रे के पास भारी बर्फबारी के चलते श्रीनगर-लेह राजमार्ग पहले से बंद है। मुगल रोड के पीर की गली क्षेत्र में बर्फबारी से सड़क बंद कर दी गई है। यह सड़क घाटी को जम्मू के राजौरी जिले से जोड़ती है।

उधर हिमाचल के रोहतांग दर्रे में अब तक दो फुट बर्फ गिर चुकी है। बारालाचा दर्रे में भारी बर्फबारी होने से मनाली-लेह मार्ग सर्दियों के लिए बन्द हो गया है। लाहुल स्पीति के जिला मुख्यालय केलंग में भी अब तक डेढ़ फुट बर्फ गिर चुकी है। सिरमौर की चोटी चूड़धार में चार इंच हिमपात की खबर है। शिमला के पास नारकंडा में भी बर्फ पड़ी है।

शिमला में तारादेवी लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह के पास बिजली गिरने से देवदार पेड़ दो हिस्सों में बंट गया। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के कई हिस्सों में अभी बारिश और बर्फबारी हो सकती है। ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर और कांगड़ा में मौसम साफ रहने और अन्य क्षेत्रों में बारिश-बर्फबारी होने की संभावना है।