कश्मीर में हिमस्खलन से ७ जवानों की मौत

सभी के शव मिले, तीन को सुरक्षित बचाया गया

0
625

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में जवाहर सुरंग के पास गुरूवार को हिमस्खलन की चपेट में आये नौ जवानों में ७ की मौत हो गयी है। तीन जवानों को सुरक्षित बचा लिया गया है।

यह जवान गुरुवार को हिस्खलन की चपेट में आ गए थे। उसके बाद से उन्हें बचाने की कोशिश जारी थी लेकिन अब पता चला है कि इनमें से ७ की मौत हो गयी है। इन सातों के शव मिल गए हैं। तीन अन्य को सुरक्षित बर्फ में से निकाल लिया गया है।

इलाके में भारी बर्फबारी के बाद इन्हें बचाने के आपरेशन में वाधा आ रही थी। बर्फ का बड़ा तौदा जवानों के कैम्प पर आ गिरा था जिसमें यह लोग डाब गए थे। गुरुवार को कुलगाम जिले में जवाहर सुरंग में पुलिस पोस्ट के पास यह नौ पुलिसकर्मी उस समय फंस गए थे जब वहां हिमस्खलन हो गया। पुलिसजम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में जवाहर सुरंग के पास गुरूवार को हिमस्खलन की चपेट में आये नौ जवानों में ७ की मौत हो गयी है। तीन जवानों को सुरक्षित बचा लिया गया है।

यह जवान गुरुवार को हिस्खलन की चपेट में आ गए थे। उसके बाद से उन्हें बचाने की कोशिश जारी थी लेकिन अब पता चला है कि इनमें से ७ की मौत हो गयी है। इन सातों के शव मिल गए हैं। तीन अन्य को सुरक्षित बर्फ में से निकाल लिया गया है।

इलाके में भारी बर्फबारी के बाद इन्हें बचाने के आपरेशन में वाधा आ रही थी। बर्फ का बड़ा तौदा जवानों के कैम्प पर आ गिरा था जिसमें यह लोग डाब गए थे। गुरुवार को कुलगाम जिले में जवाहर सुरंग में पुलिस पोस्ट के पास यह नौ पुलिसकर्मी उस समय फंस गए थे जब वहां हिमस्खलन हो गया। पुलिस के अनुसार उनके बचाव के लिए बड़े पैमाने पर अभियान चलाया गया था जिसमें सेना, पुलिस और अन्य सुरक्षा बल शामिल थे।

कश्मीर घाटी में पिछले ३६ घंटे में कुलगाम जिले में ही सबसे अधिक हिमपात हुआ है। जिले के कुछ हिस्सों में पांच फुट से ज्यादा बर्फ पड़ी है।

कश्मीर घाटी में ताजा बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश से जनजीवन प्रभावित है। कई स्थानों पर लोग बिजली के बिना घरों के अंदर ही रहने को मजबूर हैं। वहीं कई जगह सड़क मार्ग भी बंद है और कई उड़ानें रद्द कर दी गई हैं। के अनुसार उनके बचाव के लिए बड़े पैमाने पर अभियान चलाया गया था जिसमें  सेना, पुलिस और अन्य सुरक्षा बल शामिल थे।

कश्मीर घाटी में पिछले ३६ घंटे में कुलगाम जिले में ही सबसे अधिक हिमपात हुआ है। जिले के कुछ हिस्सों में पांच फुट से ज्यादा बर्फ पड़ी है।

कश्मीर घाटी में ताजा बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश से जनजीवन प्रभावित है। कई स्थानों पर लोग बिजली के बिना घरों के अंदर ही रहने को मजबूर हैं। वहीं कई जगह सड़क मार्ग भी बंद है और कई उड़ानें रद्द कर दी गई हैं।