करोल त्रिपुरा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश होंगे

0
263
हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट के जस्टिस संजय करोल त्रिपुरा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश होंगे। सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई समेत पांच वरिष्ठ जजों की कॉलेजियम ने जस्टिस करोल के नाम की सिफारिश कर दी है। उधर कॉलेजियम ने जस्टिस हेमंत गुप्ता, जस्टिस आर सुभाष रेड्डी, जस्टिस एमआर शाह और जस्टिस अजय रस्तोगी को सुप्रीम कोर्ट का जज नियुक्त किया है।
कॉलेजियम ने जस्टिस संजय करोल के नाम की सिफारिश त्रिपुरा हाईकोर्ट के लिए की है जहाँ कुछ  समय से मुख्या न्यायाधीश का पद खाली था। वहां मुख्या न्यायाधीश रहीं अभिलाषा कुमारी, जो हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की बेटी हैं, १९ फरवरी को रिटायर हो गई थीं और उन्हें गुजरात में आयोग का चेयरपर्सन बनाया गया है। जस्टिस अभिलाषा कुमारी का मूल हाईकोर्ट हिमाचल ही था।
जस्टिस करोल १९८६ से वकालत कर रहे हैं। वे संविधान, टैक्सेशन, कॉर्पोरेट लॉ, क्रिमिनल और सिविल लॉ के विशेषज्ञ माने जाते हैं। उन्होंने १९८६ से २००३ तक हिमाचल प्रदेश के एडवोकेट जनरल के रूप में काम किया।
उन्हें १९९९ में सीनियर एडवोकेट मनोनीत किया गया। मार्च २००७ में वे हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट के जज बने। इसी साल अप्रैल में उन्हें हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट का कार्यवाहक चीफ जस्टिस नियुक्त किया गया। वे पांच अक्टूबर तक इस पद पर रहे। बाद में जस्टिस सूर्य कांत राव को हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त किया गया।