एमपी में भाजपा ने ३७ विधायकों का टिकट काटा

इनमें दो मंत्री, पहली सूची में १७७ नाम

0
506
मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए १७७ प्रत्याशियों की जो पहली सूची जारी की है उसके मुताबिक ३५ विधायकों और दो मंत्रियों का पत्ता साफ़ कर दिया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज चौहान की भेजी सूची को पार्टी आलाकमान ने मंजूर कर लिया।
सूबे में इसी महीने मतदान होना है। भाजपा ने जिन दो मंत्रियों का टिकट काटा दिया वे माया सिंह और गौरीशंकर शेजवार हैं। मुख्यमंत्री बुधनी से चुनाव लड़ेंगे। पिछली बार उनहोंने दो सीटों से चुनाव लड़ा था। हो सकता है दूसरी सूची में वे किसी और सीट से भी चुनाव लड़ें। विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने पहली सूची दिल्ली मुख्यालय से जारी की।
पार्टी ने ३५ विधायकों को टिकट नहीं दिया है। माना जाता है उनका टिकट काटने के पीछे बजह उनकी जीत की काम सम्भाना थी। पार्टी ने मंत्री माया सिंह की जगह पार्षद सतीश सिकरवार को मैदान में उतारा है। माया ग्वालियर पूर्व से चुनाव लड़ती रही हैं। मुरैना से रुस्तम सिंह, श्योपुर से दुर्गालाल, लहार से रशल सिंह, गोहद से लाल सिंह आर्य और विजयपुर से सीताराम को टिकट मिला है। दतिया से नरोत्तम मिश्रा को टिकट मिला है। मिश्रा का नाम विवादों में घिरा रहा था। एक और मंत्री गौरी शंकर सेजवार को भी टिकट नहीं दिया गया हालांकि उनकी जगह उनके बेटे को टिकट थमाया गया   है।
मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन की प्रक्रिया आज से शुरू हो गई जो ९ नवंबर तक चलेगी। मध्यप्रदेश में २८ नवंबर को एक ही चरण में चुनाव होंगे। मध्यप्रदेश में कुल २३० विधानसभा सीटें हैं और भाजपा प्रदेश में लगातार 15 साल से सत्ता में है।