एक भी अमेरिकी सैनिक नहीं मरा : ट्रम्प

सुबह ईरान ने हमले के बाद किया था ८० लोगों के मरने का दावा

0
622

ईरान के आज सुबह के दावे के विपरीत अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बुधवार रात एक विशेष प्रसारण में कहा कि ईरान के हमले में एक भी अमेरिकी सैनिक या नागरिक या किसी इराकी सैनिक की जान नहीं गयी है। ट्रम्प ने कहा कि हां, हमारे सैन्य ठिकानों को थोड़ा-बहुत नुक्सान हुआ है। उन्होंने ईरान पर आतंकवाद का प्रायोजक होने का आरोप भी लगाया है।

ट्रम्प का इस विशेष प्रसारण में दावा ईरान के सरकारी मीडिया के सुबह किये उस दावे के विपरीत है जिसमें उसने कहा था कि उसके मिसाइल हमले में ८० लोग मारे गए हैं। इस हमले के बाद एक ट्वीट में भी ट्रम्प ने कहा था – ”ऑल इस फाइन।”

ट्रम्प ने कहा कि ईरान के जनरल सुलेमानी का मरना अमेरिका ही नहीं ईरान के लिए भी अच्छा है। ट्रम्प ने कहा कि सुलेमानी अमेरिका पर हमले की योजना बना रहा था। याद रहे सुलेमानी की आखिरी रसूमात में लाखों ईरानी शामिल हुए थे।

उन्होंने कहा कि मिडल ईस्ट और खाड़ी में शांति की जरूरत है। कहा कि ईरान को परमाणु ताकत बनने का खाब छोड़ देना चाहिए। हमें मेडल ईस्ट से तेल की जरूरत नहीं। कहा कि ईरान पर अब कड़े आर्थिक प्रतिबन्ध लगाए जायेंगे।

ट्रम्प ने कहा कि हमने आईएस को लगभग ख़त्म कर दिया है। उसके लीडर बगदादी को मार गिराया। हमने आईएस के १०,००० कार्यकर्ता मार गिराए।