ईरान ने माना हमारी ही गलती से यूक्रेन विमान हादसा हुआ

इसमें चली गयी थी १७६ लोगों की मौत

0
536

ईरान ने शनिवार को स्वीकार किया है कि कुछ रोज पहले तेहरान में विमान हादसा ‘मानवीय भूल’ का नतीजा था और उसने ही विमान को मार गिराया। इस हादसे में १७६ लोगों की मौत हो गयी थी। यह विमान यूक्रेन का था।

यूक्रेन के इस विमान हादसे की जिम्मेदारी अब ईरान ने ले ली है। ईरान के सरकारी मीडिया के मुताबिक ईरान आर्मी ने अपनी गलती मानते हुए कहा है कि धोखे से उसने यूक्रेन के विमान को मार गिराया था। इस विमान हादसे में १७६ यात्रियों की मौत हो गई थी।

ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जरीफ ने ट्वीट करते हुए कहा – ‘एक बुरा दिन।  सशस्त्र बलों की ओर से की गई आंतरिक जांच में पता चला है कि अमेरिका पर हमले के दौरान मानवीय गलती के चलते ये हादसा हो गया। हमें गहरा अफसोस है। हम उन परिवार के सदस्यों से माफी मांगते है जो इस गलती का शिकार हुए हैं।’

यह हादसा इराक में अमेरिकी ठिकानों पर मिसाइल हमने के कुछ घंटे बाद ही हुआ था लिहाजा इसे लेकर कयास लगाए जा रहे थे। अब ईरान ने हादसे को लेकर अपनी गलती स्वीकार करते हुए इसे अपने ही लोगों की ‘मानवीय भूल’ बतया है। उसने माना उसने अपने ही विमान को मार गिराया। पहले ईरान ने इसे विमान में खराबी के कारण हुआ हादसा बताया था।

इस बोइंग विमान में १७६ लोग सवार थे और सभी की मौत हो गई है। यूक्रेन इंटरनेशनल एयरलाइन्स के विमान में सवार यात्रियों में सबसे अधिक (८२) ईरान के ही थे। ईरान के ८२ लोगों के साथ ६३ कनाडाई, यूक्रेन के ११, स्वीडन के १०, अफनागिस्तान के चार, जर्मनी और यूके के ३-३ लोग सवार थे।