आईएसआई एजेंट वाराणसी के पास से गिरफ्तार

प्रेमिका और लालच में देश के दुश्मनों से मिलाया हाथ

0
1065
प्रेमिका से शादी और महंगे उपहारों के लालच में फंसकर राशिद अहमद देश के दुश्मनों से हाथ मिला बैठा। वह नापाक इरादे रखने वाले लोगों के इशारों पर नाचता रहा। हालांकि उसे न तो प्रेमिका मिली और न ही पैसे। मगर जेल जाने से परिवार जरूर कलंकित हो गया। राशिद को उत्तर प्रदेश एटीएस ने वाराणसी के पास से गिरफ्तार किया है।
आरोपी राशिद के अनुसार, उसकी खाला (मौसी) हसीना बेगम पाकिस्तान के कराची में रहती है। 2017 और नवंबर 2018 में वह कराची भी गया था। इस दौरान उसे उसके मामू नजीर की बेटी अनम से प्यार हो गया और उसने उससे निकाह करने की ठानी। राशिद अपने खालाजाद भाई सहजेब के साथ कराची में रहता था।
शहजेब ने उसकी दोस्ती आसिम और अमद से कराई। ये दोनों पाकिस्तान की आईएसआई के एजेंट हैं। इन दोनों ने राशिद से कहा कि यदि वह हिंदुस्तान के सैन्य अड्डों और सुरक्षा के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण स्थानों की फोटो और वीडियो भेजे तो वह उसे रुपये और उपहार देंगे। इसके साथ ही उसका निकाह अनम से आसानी से करा देने का वादा किया।
फरवरी 2019 में राशिद भारत लौट कर आया तो आसिम और अमद को फोटो और वीडियो भेजने लगा। इसके बदले में राशिद को मई 2019 में पाकिस्तान में बनी टी-शर्ट और जुलाई 2019 में पेटीएम के माध्यम से पांच हजार रुपये भेजे थे। इसके बाद जोधपुर के सैन्य अड्डों की फोटो और वीडियो मंगाए। इसके लिए एक लाख रुपये और 15 हजार रुपये महीने खर्च देने की बात कही,  पर इससे पहले ही राशिद गिरफ्तार कर लिया गया। रमहज 24 आल का राशिद फेसबुक में भी सक्रिय है। सोशल मीडिया में लिखा कि आई लव माई अकिस्तान।