अमेरिका ने माना कि काबुल ड्रोन हमले में सभी आम नागरिक मरे थे

अमेरिका ने स्वीकार किया है कि अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में उसकी तरफ से अगस्त में किए गए ड्रोन हमले में 10 लोग मारे गए थे और वे सभी आम नागरिक थे। पेंटागन के इस ब्यान से साफ़ हो गया है कि इस ड्रोन हमले में कोई इस्लामिक स्टेट चरमपंथी नहीं मारा गया था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक यूएस सेंट्रल कमांड के प्रमुख जनरल फ्रैंक मैकेंजी ने स्वीकार किया है कि मरने वाले सभी लोग आम नागरिक थे। उन्होंने जान गंवाने वालों के प्रति अफ़सोस का भी इजहार किया।

उधर एपी की इसी तरह की एक रिपोर्ट में एक अनाम अफगानी अधिकारी के हवाले से अपनी रिपोर्ट में बताया था कि हमले में तीन बच्चों की मौत हुई है। सीएनएन की रिपोर्ट के बाद अमेरिका ने कहा है कि वह जांच कर रहा है कि हमले में नागरिकों की मौत हुई या नहीं और अगर ऐसा हुआ तो ये बेहद दुखद होगा।