अन्ना से मिले राज ठाकरे भूख हड़ताल रोकने की गुजारिश। कहा मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए साथ हैं ।

0
832

लोकपाल नियुक्ति और किसानों के हित में मांगों को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे वरिष्ठ समाज सेवक अन्ना हजारे को मिलने आज एमएनएस चीफ राज ठाकरे पहुंचे । अनशन के छठवें दिन अन्ना की बिगड़ती सेहत को देखते हुए राज ठाकरे ने उन्हें अपनी जिंदगीन खेलने का निवेदन किया और आश्वासन दिया कि इस सरकार को गाढ़ने में वे उनके साथ हैं।

राज ने कहा कि मोदी सरकार निर्दयी है पीएम द्वारा अनशन के लिए शुभकामनाएं भेजना बेशर्मी है। अन्ना मरे या जिए इससे सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ता।
दिल्ली के चीफ मिनिस्टर और अन्ना के पुराने सहयोगी अरविंद केजरीवाल पर भी तंज कसते हुए राज ने कहा कि केजरीवाल जो भी है आज अन्ना की वजह से है और उन्हें अन्ना को मिलने आना चाहिए था लेकिन वह अभी तक नहीं आए।
इसके पूर्व शिव सेना चीफ और राज ठाकरे के कजिन उद्धव ठाकरे नेवी ने भी अन्ना हजारे से अनशन रोकने की गुजारिश की थी ।उन्होंने कहा था अन्ना को अ्पनी जिंदगी का ख्याल रखना चाहिए और भ्रष्टाचार खिलाफ आंदोलन का बिगुल बजाना चाहिेए।उद्धव ने  मोदी सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा था सरकार द्वारा नजरअंदाज किए जाने के चलते ही गंगा को स्वच्छ करने के लिए भूख हड़ताल कर रहे प्रोफेसर अग्रवाल ने अपनी जान गंवा दी थी लेकिन सरकार के कान पर जूं भी नही रेंगी।