सरकारी और निजी अस्पतालों में कोरोना के अलावा अन्य रोगियों को तांता

कोरोना के मामले कम होते ही, दिल्ली के सरकारी और निजी अस्पतालों में हार्ट रोगी, किडनी रोगी सहित अन्य रोग से पीड़ित अब बिना डर-भय के अपने इलाज कराने के लिये अस्पतालों में आ-जा रहे है। अस्पतालों में मरीजों का तांता लगा हुआ है। एम्स के डाक्टरों का कहना है कि कोरोना एक संक्रमित बीमारी के साथ घातक बीमारी है। इसमें जरा सी लापरवाही जानलेवा हो सकती है। एम्स के डाँ आलोक कुमार का कहना है कि कोरोना के साथ-साथ हमें अन्य बीमारियों का रूटीन चैकअप समय-समय पर करवाते रहना चाहिये। ताकि किसी अन्य प्रकार की स्वास्थ्य समस्या ना हो सकें।