लगातार दूसरे दिन कोरोना मरीजों की तादाद दो लाख के पार

देश में कोरोना संक्रमण की लहर बेकाबू है। इसके बावजूद लापरवाहियां जारी हैं। एक ओर कुंभ पर लाखों लोगों का जमा होना साथ ही बंगाल में चुनाव प्रचार पर रैलियों में भारी भीड़ का जमावड़ा चिंता का सबब बना हुआ है। लगातार दूसरे दिन संक्रमण के मामले दो लाख के पार पहुंचे हैं। इससे पहले वीरवार को पहली बार इसने एक दिन में दो लाख संक्रमण का आंकड़ा पार कर लिया। ये इससे एक दिन पहले के मुकाबले 9 फीसदी अधिक था। इस दौर 1184 मरीजों की मौत हुई जो पिछले साल सितंबर के बाद सबसे ज्यादा है।
इसी बीच देश में सक्रिय मरीजों की संख्या 15 लाख पहुंच गई। इस महीने सक्रिय मरीजों की संख्या ढाई गुना तक बढ़ गई है। गत 31 मार्च को यह संख्या छह लाख थी। ज्यादा सक्रिय मामलों का मतलब यह होता है कि इससे संक्रमण का खतरा भी बढ़ेगा और मौतों की संख्या में भी तेजी देखी जा सकती है। 14 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में अब तक के सबसे अधिक कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए।
सबसे अधिक महाराष्ट्र में 61,695 मामले सामने आए। देश में कुल 2,16,902 मामले सामने आए। महाराष्ट्र में कुल 349 मौते हुई हैं। इसके बाद छत्तीगढ़ में 135, दिल्ली में 112 और उत्तर प्रदेश में 104 लोगों की मौत हुई। गुजरात में 81, कर्नाटक में 66 और मध्य प्रदेश में 53 मरीजों ने दम तोड़ा।
मध्य प्रदेश में एक खबर अलग चर्चा का विषय बना हुआ है कि भोपाल में एक साथ 112 लोगों को जलाया गया, जबकि सरकारी रिकॉर्ड में महज चार को दिखाया गया।