किसानों ने अंग्रेजों को भगाया, अब भाजपा की बारी: प्रियंका गांधी वाड्रा

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि इन काले कानूनों को बनाने से पहले किसी किसान से राय तक नहीं ली गई। 100 दिन से अधिक बीत जाने के बावजूद किसान दिल्ली बॉर्डर पर क्यों बैठे हैं, अगर कानून आप लोगो के लिए बने हैं। किसानों ने इस देश को आजादी दिलाई। किसान में हिम्मत और आत्मशक्ति की कमी नहीं है। अगर किसान बॉर्डर पर बैठा है, तो क्या प्रधानमंत्री को उसका आदर नही करना चाहिए। लेकिन वहां पर अन्नदाताओं का पानी काटा गया, बिजली काटी गई। यहां तक कि कीलें भी बिछा दी गईं। भाजपा सरकार बड़े-बड़े उद्योगपतियों के लिए चल रही है। उनके केवल दो ही मित्र हैं। बिजली के दाम बढ़ गए, पेट्रोल-डीजल का दाम बढ़ गया। हर तरफ से आप पर वार है। इस स्थिति को बदलने के लिए आप लोगों को आगे आना ही होगा।

गन्ना क्षेत्र के किसानों को संबोधित करते हुए प्रियंका ने कहा कि उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों का बकाया 10 हजार करोड़ है। मोदीजी ने दो हवाई जहाज खरीदे हैं। ये 16 हजार करोड़ में हवाई जहाज खरीदे हैं। पूरे देश का किसानों का बकाया 15 हजार करोड़ है। संसद के सौंदर्यीकरण के लिए 20 हजार करोड़ रखे हैं। जबकि आप किसानों के बीमे से 26 हजार करोड़ रुपये उनके दोस्तों की जेब में गए। तो यह सरकार आम आदमी का भला करने से रही, ये बात समझनी होगी और इनके खिलाफ खड़ा होना होगा।