पप्पू यादव राजद से छह साल के लिए बाहर

पप्पू यादव बिहार की मधेपुरा सीट से सांसद हैं. पिछले कुछ दिनों से पप्पू और पार्टी हाईकमान के बीच मतभेद खुलकर सामने आने लगे थे, जिसके बाद से उनका पार्टी से निकाला जाना तय हो गया था. हाल के दिनों में कुछ मौकों पर वह लालू के राजनीतिक उत्तराधिकारी होने का दावा पेश करने लगे थे. इसके अलावा जनता परिवार के विलय के आलोचक और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के मुखर समर्थक के रूप में उभरने लगे थे. अब कयास लगाया जा रहा है कि पप्पू यादव मांझी के साथ मिलकर नई पार्टी बना सकते हैं. राजद ने 18 अप्रैल को पप्पू यादव को नोटिस दिया था. नोटिस में उनसे ‘पार्टी विरोधी गतिविधियों’ के बारे में सफाई मांगी गई थी. बहरहाल इस कार्रवाई से राजद को नुकसान भी उठाना पड़ सकता है. पप्पू यादव की कोसी इलाके में अच्छी पैठ है. ऐसे में वे राजद के वोट बैंक में सेंध लगा सकते हैं.

पढ़ें पप्पू यादव के साथ तहलका की बातचीत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here