Issue wise archive | Tehelka Hindi

Volume 9, Issue 19 Back To Archive >

देश के करोड़ों घरों में अब रातों में भी उजाला
वंशवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ  मुहिम   अर्से से लोगों को इंतजार था कि प्रधानमंत्री देश की आर्थिक विकास दर दुरुस्त करने के लिए ऐसी...

Other Articles

दर दर भटकते रोहिंग्या शरणार्थी

मानवीयता के आधार पर दुनिया म्यांमार के रोहिंग्या शरणार्थियों के साथ है। भारत में भाजपा सांसद वरूण गांधी ने भी उन्हें सहयोग देने की बात की है। हालांकि भारत सरकार अब भी उन्हें शरण देने से हिचक रही है। बांग्लादेश में रोहिंग्या शरणार्थियों की संख्या चार लाख से भी कहीं  

बुन्देलखण्ड में सूखे की मार, किसान बेहाल

देश को आज़ादी मिले आज सात दशक से ज़्यादा का समय बीत गया पर बुन्देलखण्ड का हाल-बेहाल है। केन्द्र और राज्य में, सरकारें आती-जाती रही पर बुन्देलखण्ड की जन समस्याओं और किसानों की मुसीबतें बरकरार रहीं। केन्द्र की सरकारों ने भारी -भरकम पैकेज करोड़ो रुपयों में दिये जो भ्रष्टाचार की भेंट  

राजस्थान में किसानों की जीत आंदोलन में किसानों के साथ मज़दूर, व्यापारी और छात्र भी शामिल

राजस्थान के सीकर क्षेत्र मेें किसान आंदोलन ने वह कर दिखाया जिसकी उम्मीद भी किसी को नहीं थी। आज ऐसा समय है जब पूंजीवादी अर्थव्यवस्था को फलने-फूलने का अवसर देने के लिए सरकारों के बीच जैसे होड़ लग गई है। मनमोहन सिंह की सरकार ने पूंजीपतियों के हक में जो  

काशी हिंदू विश्वविद्यालय: गुंडों पर नहीं, छात्राओं पर लगती है रोक

काशी हिंदू विश्वविद्यालय को जरूरत है ऐसे उपकुलपति की जिसके मन में छात्रों के प्रति चिंता हो। एक ऐसा प्रशासक जो छात्र-छात्राओं की जरूरतों को आधुनिक जीवन की चुनौतियों के लिहाज से समझता हो। देश में विकास रूप ले रहा है उसी लिहाज से छात्र-छात्राओं की अपनी मांगे भी हैं जिन  

जीएसटी की मार: त्योहार में कमज़ोर रहा व्यापार

चिकित्सा, खेल और शिक्षा भी प्रभावित वस्तु व सेवा कर (जीएसटी) की चपेट में आज व्यापारी ही नहीं है, बल्कि उन लोगों पर खासी मार पड़ी है जो अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा,चिकित्सा और खेल के क्षेत्र में आगे बढ़ाना चाहते हैं। पिछले साल नवम्बर में जब सरकार ने एक हजार और  

आर्थिक सलाहकार परिषद फिर बनी आर्थिक सुझावों पर अब और ध्यान

देश में आर्थिक सलाहकार परिषद फिर सक्रिय कर दी गई। आर्थिक विकास दर बढ़ाने के इरादे से प्रधानमंत्री ने यह पहल की है। इस साल की पहली तिमाही में यह महज 5.2 फीसद रही। परिषद की कमान बिबेक देब रॉय संभालेंगे। सरकार ने सोमवार 25 सितंबर को यह घोषणा की। प्रधानमंत्री से इस आर्थिक  

देश के करोड़ों घरों में अब रातों में भी उजाला

वंशवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ  मुहिम   अर्से से लोगों को इंतजार था कि प्रधानमंत्री देश की आर्थिक विकास दर दुरुस्त करने के लिए ऐसी योजनाएं पेश करेंगे जिससे रोजगार दर बढ़े और शहरी और ग्रामीण इलाकों में विकास हो। प्रधानमंत्री ने भारतीय जनता पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक के दिन 25 सितंबर