ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं

0
56

विकास के अनुमानों पर राजन का कहना है कि साल 2014-15 के लिए सकल घरेलू उत्पादन (जीडीपी) 5.5 प्रतिशत रह सकता है. उनके शब्दों में, ‘ देश में घरेलू आर्थिक गतिविधियां दोबारा बढ़ रही हैं.’

उपभोक्ता कीमत सूचकांक के आधार पर मुद्रास्फीति जून में 43 महीने के न्यूनतम स्तर 7.31 पर आ चुकी है जबकि मई में फैक्टरी उत्पादन 4.70 प्रतिशत रहा. नौ महीने का यह उच्चतम स्तर है.

आरबी‌आई की मौद्रिक नीति की अगली समीक्षा 30 सितंबर को होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here