हम भाजपा के खिलाफ लड़ रहे : प्रियंका

कांग्रेस के ७ सीट वाले ब्यान पर नाराज मायावती को जवाब

0
364
कांग्रेस के प्रति इन दिनों कड़वे बोल बोल रहीं बसपा प्रमुख मायावती कांग्रेस के यूपी में गठबंधन (सपा-बसपा-आरएलडी) को ७ सीटें छोड़ने के फैसले से बहुत गुस्से में हैं। वैसे खुद इस गठबंधन ने कांग्रेस के लिए महज २ सीटें छोड़ी थीं। अब मायावती की टिप्पणी कि ”कांग्रेस जबरदस्ती सीट छोड़ने का भ्रम (कन्फ्यूजन) न फैलाए” का जवाब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कुछ ऐसे दिया है – ”हमारे अंदर किसी प्रकार का कोई कन्फ्यूजन नहीं है, हम भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ लड़ रहे हैं।”
दोनों के बयानों से साफ़ है कि कांग्रेस को लेकर बसपा कुछ असुरक्षित महसूस कर रही है। मायावती के विपरीत उनकी सहयोगी सपा कांग्रेस के प्रति बहुत सोच-विचार कर ही टिप्पणी कर रही है। यह भी माना जा रहा है कि सपा के भीतर कुछ नेताओं का विचार है कि मायावती सपा को अपने मकसद के लिए ”इस्तेमाल” कर रही हैं।
अब जबकि लोकसभा चुनाव के लिए ज्यादा समय नहीं रह गया है। मायावती की कांग्रेस से नाराजगी की एक बड़ी बजह को राजनीतिक विश्लेषक इसलिए भी मान रहे हैं कि कांग्रेस जितनी मजबूत होगी यूपी में इसका सबसे ज्यादा नुक्सान मायावती और बसपा को उठाना पड़ेगा।
अब मायावती को प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रहीं प्रियंका गांधी ने दो टूक जवाब दिया है। प्रियंका ने कहा –  ”हमारे अंदर किसी प्रकार का कोई कन्फ्यूजन नहीं है, हम भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ लड़ रहे हैं।” प्रियंका के इस ब्यान का एक मतलब यह भी निकलता है कि लोक सभा चुनाव में उसका मुकाबला सिर्फ भाजपा से है और बसपा (गठबंधन) कहीं नहीं है। हालाँकि प्रियंका के कहने का मकसद सम्भवता यह रहा होगा कि ”कांग्रेस की महागठबंधन से कोइ लड़ाई नहीं। वह तो भाजपा को हारने के लिए काम कर रही है।
गौरतलब है कि रविवार को कांग्रेस ने समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल के लिए सात सीटें छोड़ने का ऐलान किया था। इससे यह सन्देश गया कि कांग्रेस खुद को भाजपा का असली विरोधी बताकर महागठबंधन को छोटा करके आंक रही हैं जिससे मायावाती भड़क गईं। मायावती ने कहा कि कांग्रेस से किसी भी प्रकार का गठबंधन और तालमेल नहीं है।