सुप्रीम कोर्ट की लखीमपुर ममले में यूपी सरकार को कड़ी फटकार

प्रधान न्यायाधीश ने कहा कि साधारण स्थिति में 302 यानी मर्डर केस में पुलिस क्या करती है? वह आरोपी को गिरफ्तार करती है। जस्टिस सूर्यकांत ने कहा कि आरोपी कोई भी हो, कानून को अपना काम करना चाहिए। साल्वे ने कहा कि जो भी कमी है कल तक ठीक हो जाएगी। सर्वोच्च अदालत ने उत्तर प्रदेश सरकार को एक वैकल्पिक एजेंसी के बारे में अदालत को अवगत कराने के लिए कहा है जो मामले की जांच कर सकती है।

आज की सुनवाई में लखीमपुर खीरी मामले पर प्रधान न्यायधीश ने उत्तर प्रदेश सरकार को अपने डीजीपी से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि जब तक कोई अन्य एजंसी इसे संभालती है, तब तक मामले के सबूत सुरक्षित रखे जाएं। प्रधान न्यायधीश ने एक मीडिया रिपोर्ट, जिसमें कहा गया था कि प्रधान न्यायाधीश पीड़ितों  से मिलने लखनऊ गए हैं, पर कहा कि ‘ये खुद समझना चाहिए कि ये कैसे हो सकता है…मैं कोर्ट में हूं।’