राहुल गांधी ने लोकसभा में एसआईटी रिपोर्ट का हवाला दे लखीमपुर मामले में स्थान नोटिस दिया

कांग्रेस सांसद ने लोकसभा में दिए स्थगन नोटिस में लिखा – ‘यूपी पुलिस की एसआईटी रिपोर्ट में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि लखीमपुर में किसानों का नरसंहार एक पूर्व नियोजित साजिश थी, न कि कोई लापरवाही। सरकार को गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा को तुरंत बर्खास्त करना चाहिए और पीड़ितों के परिवारों को न्याय दिलाना सुनिश्चित करना चाहिए।’

याद रहे राहुल गांधी और उनकी बहन पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी को पीड़ित परिवारों से मिलने के लिए लखीमपुर खीरी जाते हुए यूपी सरकार और उसके प्रशासन की तरफ से बहुत दिक्क़तें झेलनी पड़ी थीं। प्रियंका को एक दिन से ज्यादा हिरासत में   रखा गया था जबकि राहुल गांधी को लख़नऊ एयरपोर्ट पर ही कई घंटे रोक कर रखा गया था। हालांकि, तमाम बाधाओं के बावजूद दोनों कांग्रेस नेता पीड़ित परिवारों से मिलने में सफल रहे थे।

अब मामले की जांच कर रही एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि ”आशीष मिश्रा और अन्य के खिलाफ रैश ड्राइविंग के आरोपों को संशोधित किया जाना चाहिए, और  हत्या के प्रयास के आरोप और स्वेच्छा से चोट पहुंचाने के आरोप शामिल किए जाने चाहिए।” बता दें मंत्री पुत्र आशीष मिश्रा पर पहले से ही हत्या और साजिश के आरोप हैं और उनपर मामला चल रहा है।