राहुल गांधी की गिरफ्तारी

दिल्ली में राफेल, सीबीआई मसले पर कांग्रेस का प्रदर्शन

0
486
सीबीआई और राफेल विमान खरीद के मसले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को दिल्ली में प्रदर्शन का नेतृत्व किया। बाद में राहुल को पुलिस ने ‘गिरफ्तार’ कर लिया। उनके साथ कुछ और बड़े नेताओं को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस का कहना है कि राहुल ने खुद गिरफ्तारी दी है हालाँकि कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करके कहा है कि पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया है।
राहुल आज पूरी रंग में दिख रहे थे। वे वेरिकेट पर चढ़ते दिखे। उनके साथ डी राजा सहित विपक्ष के कुछ नेता भी प्रदर्शन में शामिल हुए। राहुल लोधी रोड पुलिस थाने ले जाये गए हैं। इस दौरान राहुल ने पीएम नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला किया। उन्होंने मोदी पर आरोप लगाया कि मोदी ने लोकतांत्रिक संस्ताओं को तबाह करके रख दिया है। ”राफेल पर मोदी डरे हुए हैं। वे कुछ बोल नहीं रहे। सीबीआई निदेशक को बाहर करके और उनका दफ्तर सील करके राफेल से जुड़े कागज़ छिपाने की कोशिश मोदी ने की है। इससे साबित होता है उन्होंने चोरी की है”।
राहुल ने आरोप लगाया कि अनिल अम्बानी को ३०,००० करोड़ का लाभ दिया गया है। राहुल पूरी तरह अकर्मक दिखे और उन्होंने एक वाहन पर लटक कर वहां लोगों को सम्बोधित किया। इस मौके पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बड़ी भीड़ मोदी सरकार के खिलाफ नारे लगा रही थी। राहुल ने खुद प्रदर्शन का नेतृत्व किया और मोदी सरकार के खिलाफ नारे भी लगाए। विपक्ष के दलों माकपा, भाकपा, टीएमसी, सपा आदि ने भी राहुल के प्रदर्शन का समर्थन किया है।
कांग्रेस ने सीबीआई में अफसरों को सरकार की तरफ से छुट्टी पर भेजने और राफेल को आपस में जोड़ दिया है और मोदी सरकार पर जबरदस्त आकर्मण कर रही है। राहुल के तेवर तीखे दिख रहे हैं। वे प्रदर्शन करते हुए सीबीआई मुख्यालय जाने वाले थे लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी कर ली। राहुल को एक पुलिस बस में बैठाया गया है।
कांग्रेस ने सीबीआई-राफेल मसले पर शुक्रवार को पूरी देश में प्रदर्शन किया।  सीधे पीएम मोदी के खिलाफ नारे लगाए गए और उनके सरकार को चोर बताया गया। दिल्ली में पार्टी के कार्यकर्ताओं की बड़ी तादाद जुटी है। इस समय राहुल पुलिस बस में लोधी रोड पुलिस स्टेशन पहुँच चुके हैं।
करीब २.४५ पर राहुल को रिहा कर दिया गया। बहार आकर राहुल ने आरोप दोहराया की ”चौकीदार चोर है”।