राहुल की उपस्थिति में कन्हैया कुमार और जिग्नेश मेवाणी कांग्रेस में शामिल हुए

कांग्रेस में शामिल होने से पहले कन्हैया और जिग्नेश ने राहुल गांधी के साथ दिल्ली के आईटीओ पर स्थित शहीदी पार्क में भगत सिंह की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में वहां उपस्थित रहे। बाद में  दोनों को कांग्रेस का पट्टा पहनाकर कांग्रेस दफ्तर में पार्टी में शामिल किया गया। इस मौके पर पार्टी संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, प्रमुख प्रवक्ता सुरजेवाला, गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल भी उपस्थित थे।

राहुल गांधी बिहार में कन्हैया कुमार जबकि गुजरात में जिग्नेश को कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बना सकते हैं। राहुल गांधी की युवाओं को पार्टी से जोड़ने की योजना के तहत आने वाले समय में कुछ और युवा नेता कांग्रेस में शामिल होंगे। यह देखा जा रहा है कि राहुल भाजपा और संघ (आरएसएस) की विचारधारा से नैतिक दूरी रखने वाले नेताओं को कांग्रेस में तरजीह दे रहे हैं।

हाल के महीनों में ज्योतिरादित्य सिंधिया, जितिन प्रसाद, सुष्मिता देव जैसे युवा नेता कांग्रेस छोड़कर जा चुके हैं। इन सभी को राहुल गांधी का करीबी माना जाता था। उनके दलबदलकर भाजपा या अन्य दलों में जाने से राहुल को झटका लगा है क्योंकि यह उनके बहुत करीबी नेताओं में शामिल थे और उनकी इनर टीम का हिस्सा थे।