मुख्य सचिव से मारपीट मामले में मुख्यमंत्री केजरीवाल समेत 10 आरोपी बरी

मामले में आम आदमी पार्टी का कहना है कि उन्होंने ढाई लाख राशन कार्ड धारकों को राशन न मिलने के कारण मुख्य सचिव के साथ बैठक की थी। बैठक में जब मुख्य सचिव से इस बारे में जवाब मांगा गया तो वो बोले कि मैं सिर्फ उपराज्यपाल के आदेश लेता हूं, उन्हें ही जवाब दूंगा। प्रमुख सचिव के इस आरोप को आम आदमी पार्टी ने सिरे से खारिज कर दिया था। हालांकि पार्टी ने माना था कि आप विधायक और प्रमुख सचिव के बीच में गरमागरम बहस जरूर हुई थी, लेकिन उनसे किसी तरह की बदसलूकी की बात बेबुनियाद है।

बैठक का वीडियो व सीसीटीवी फुटेज की फॉरेंसिक जांच की गई तो उसमें वीडियो से कोई छेड़छाड़ नहीं  की गई थी। हालांकि अदालत ने मामले में आप के तेजतर्रार विधायक अमानतुल्लाह खान और प्रकाश जरवाल के खिलाफ मुकदमा चलेगा।