ममता दीदी मुझे अपनी पसंद के कुर्ते और बंगाली मिठाई भेजती हैं : मोदी

ख्यात अभिनेता अक्षय कुमार ने किया पीएम का इंटरव्यू

0
415
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भले राजनीतिक स्तर पर प्रधानमंत्री मोदी की कटु विरोधी हों और पीएम मोदी भी चुनाव प्रचार अभियान में ममता को कोसने में कोइ कसर न छोड़ते हों, खुद मोदी के मुताबिक ”ममता दीदी उन्हेँ खुद पसंद करके कुर्ते और बंगाली मिठाई भेजती हैं”। मोदी ने इसका खुलासा जाने-माने फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार के साथ एक गैर राजनैतिक इंटरव्यू में किया है।
अभिनेता अक्षय कुमार ने पीएम मोदी का यह इंटरव्यू उस समय किया है जब देश में लोक सभा के चुनाव चल रहे हैं। यह इंटरव्यू नई दिल्ली में लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री आवास पर किया गया है।
अक्षय ने पीएम से पूछा कि ख़बरों/टीवी पर नजर आता है उससे अलग असल जीवन में आपके विपक्षी नेताओं से रिश्ते कैसे हैं? इस पर मोदी का जवाब था – ”हम साल में एक-दो बार साथ में खाना भी खाते हैं। मैं बोलूंगा तो चुनाव में नुकसान भी हो सकता है, लेकिन आपको बताऊं कि ममता दीदी मुझे खुद पसंद करके कुर्ते और बंगाली मिठाई भेजती हैं।”
इस इंटरव्यू में अक्षय ने पीएम से पूछा – ”कभी सोचा था कि प्रधानमंत्री बनेंगे? यह विचार कब आया? इसपर मोदी ने जवाब दिया – ”मैंने कभी नहीं सोचा था कि पीएम बनूंगा। जो मेरा फैमिली बैकग्राउंड है उसमें मुझे कोई अच्छी सी नौकरी भी मिल जाती तो मां पड़ोसियों को गुड़ खिला देती। मुझे आश्चर्य हो रहा है कि देश मुझे इतना प्यार क्यों दे रहा है”।
एक और सवाल में अक्षय ने पूछा – ”आप संन्यासी बनना चाहते थे? सेना में जाना चाहते थे”। मोदी ने जवाब दिया – ”१९६२ की जंग हुई। स्टेशन पर देखा जो लोग फौज में जा रहे थे, उनका काफी सम्मान होता था। मैं भी वहां चला जाता था। तब मन में आया कि यह देश के लिए कुछ करने का माध्यम है”।
अक्षय के इस सवाल ”क्या हमारे प्रधानमंत्री को गुस्सा आता है? आता है तो किस पर और कैसे निकालते हैं?” पर पीएम का जवाब था – ”राजी-नाराजगी यह स्वभाव के हिस्से हैं। हर प्रकार की चीज सब में होती है। आपके स्वभाव में ईश्वर ने दिया है आपको तय करना है। मैं इतने दिन तक मुख्यमंत्री रहा, इतने दिन प्रधानमंत्री रहा, किसी चपरासी से लेकर चीफ सेक्रेटरी तक पर गुस्सा करने का अवसर नहीं मिला। कोई मेरे लिए कुछ लाया तो मैं तो खुद हेल्पिंग हैंड के रूप में खड़ा हो जाता हूं। मैं लोगों से सीखता भी हूं और सिखाता भी हूं। मेरे अंदर गुस्सा होता होगा, लेकिन मैं व्यक्त करने से खुद को रोक लेता हूं।”
याद रहे अक्षय ने सोमवार को ट्वीट में लिखा था – ”जब पूरा देश चुनाव और राजनीति पर बातें कर रहा है, यह एक राहत देने वाला इंटरव्यू है। अपने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बेलाग बातचीत पूरी तरह से गैर राजनीतिक और स्पष्ट होगी।’’