ब्रेकिंग न्यूज : ऑपरेशन ओसामा

0
84

operation_enduring_freedom_osama_bin_laden[1]अमेरिका की ‘राष्ट्रीय उपलब्धि’ पर हमारे चैनलों का उन्मादी राष्ट्रवाद भी जोर मार रहा है

न्यूज चैनलों का ब्रेकिंग न्यूज प्रेम जगजाहिर है. इस प्रेम का आलम यह है कि चैनलों पर हर दस मिनट (कई चैनलों पर हर पांच, कुछ पर हर एक-दो मिनट) में एक बार ब्रेकिंग न्यूज की पट्टी चलने का एक अघोषित नियम-सा बन गया है. वहां अब वह हर खबर ब्रेकिंग न्यूज है जो चैनल पर पहली बार चलती है.

लेकिन अकसर यह देखा गया है कि जब असल में ब्रेकिंग न्यूज आती है तो वे तैयार नहीं होते हैं. उस समय उनकी हड़बड़ी और गड़बडि़यां देखने लायक होती हैं. उनमें जोश तो बहुत होता है लेकिन होश नहीं रहता. आश्चर्य नहीं कि जब अल कायदा नेता ओसामा बिन लादेन की अमेरिकी कमांडो ऑपरेशन में मारे जाने की ब्रेकिंग न्यूज आई तो हिंदी और अंग्रेजी के देसी चैनल जोश में बावले हो गए. हालांकि उनके पास दिखाने को अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की घोषणा और लादेन की कुछ फाइल फुटेज के अलावा और कुछ खास नहीं था.

उत्साह में कई चैनलों ने मृत ओसामा की (फर्जी) तसवीर भी दिखानी शुरू कर दी, यह चेतावनी देते हुए कि ‘ये तसवीरें आपको विचलित कर सकती हैं’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here