दैनिक भास्कर के चार राज्यों के दफ्तरों पर आयकर छापे

बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर में व्यवस्थाओं की खामियां उजागर करने वाले दैनिक भास्कर के मध्यप्रदेश में इंदौर और भोपाल ऑफिस में आयकर ने छापा डाला। अफसरों की टीम महाराष्ट्र पासिंग बस से देर रात भोपाल के प्रेस कॉम्पलेक्स और इंदौर में एलआईजी चैराहे के पास दफ्तर पहुंची। भोपाल दफ्तर में रिपोर्टिंग-डेस्क टीम को काम करने से रोका।
संसद में गूंजा मुद्दा

मानसून सत्र में दैनिक भास्कर ग्रुप पर इनकम टैक्स ताबड़तोड़ छापेमारी का मुद्दा विपक्ष ने जोर-शोर से उठाया है। विपक्षी सदस्यों ने राज्यसभा में भास्कर ग्रुप पर इनकम टैक्स विभाग के छापों का विरोध किया और नारेबाजी की। इसके बाद सदन दोपहर 2 बजे तक स्थगित कर दिया गया। इसके बाद कार्यवाही शुरू हुई, लेकिन भारी हंगामे की वजह से सदन कल तक के लिए स्थगित कर दिया गया।

लोकसभा में भी हंगामा हुआ, यहां फोन टैपिंग और जासूसी का मुद्दा भी उठा। इसके बाद लोकसभा को पहले 4 बजे और फिर कल सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया। है।  विपक्ष के नेता इसे प्रेस की आजादी पर हमला बता रहे हैं। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष और लोकसभा सांसद राहुल गांधी ने रेड ऑन फ्री प्रेस के हैशटैग के साथ सोशल मीडिया पर लिखा कि “कागज पर स्याही से सच लिखना, एक कमजोर सरकार को डराने के लिए काफी”
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक ट्वीट में कहा, दैनिक भास्कर और भारत समाचार पर आयकर छापे मीडिया को डराने का प्रयास है. उनका संदेश साफ है- जो भाजपा सरकार के खिलाफ बोलेगा, उसे बख्शेंगे नहीं।ऐसी सोच बेहद खतरनाक है।सभी को इसके खिलाफ आवाज उठानी चाहिए। ये छापे तुरंत बंद किए जायें और मीडिया को स्वतंत्र रूप से काम करने दिया जाए। वहीं केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि एजेंसियां अपना काम कर रही हैं, सरकार इसमें हस्तक्षेप नहीं करती है।