दिल्ली में बदमाशों के गैंग से मुठभेड़

दो घायल, पांच गिरफ्तार, १०० वारदातों में शामिल

0
274
राजधानी दिल्ली में पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार देर रात तैमूर नगर में बांग्लादेशी बदमाशों के एक गैंग के पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया। यह लोग उस समय पकड़े गए जब पुलिस को उनकी मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद उनसे उसका एन्काउंटर हुआ।  इस एन्काउंटर के दौरान दो बदमाश घायल हुए है। उनके पास से हथियार और लूट का सामान मिला है।
रिपोर्ट्स के मुताबिक इन लोगों का गैंग देश के १० सूबों में सक्रिय था। यह लोग घरों में डकैती करते हुए कैश और ज्यूलरी तो लूटते ही थे घर में अकेली महिला होने पर गैंगरेप तक करते थे। पुलिस को इन बदमाशों से पूछताछ के दौरान इसकी जानकारी मिली। इन लोगों ने स्वीकार किया है कि डकैती और रेप की कई वारदात उन्होंने की और जब कई मामलों में पीड़ितों ने पुलिस में शिकायत नहीं की तो उनके ऐसी वारदातें करने के लिए हौसला बढ़ता गया।
क्राइम ब्रांच अधिकारियों के मुताबिक बांग्लादेशी बदमाशों का यह गैंग दिल्ली में वारदात के इरादे से जुटा था। क्राइम ब्रांच को सूचना मिलने पर उसने तैमूर नगर में एसीपी पंकज सिंह के नेतृत्व में  घेराबंदी कर ली। आधी रात करीब साढ़े १२ बजे जब पुलिस ने पूरे गैंग को घेरा यो उसके सदस्यों ने  पुलिस पर फायरिंग कर दी जिसके बाद वहां मुठभेड़ शुरू हो गयी। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की जिससे  दो लुटेरे घायल हो गए जबकि तीन अन्य को काबू कर लिया गया। गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ जारी है जबकि घायलों का उपचार किया गया है।
पूछताछ से जाहिर हुआ है कि यह लोग दिल्ली-एनसीआर के अलावा राजस्थान, बेंगलुरु, कोलकाता समेत कई राज्यों में वारदात करते रहे हैँ। दुसरे राज्यों में गैंग के सदस्यों के खिलाफ संगीन धाराओं में केस दर्ज हैं। गैंग के लोग हत्या, डकैती और रेप जैसी १०० से ज्यादा वारदातों में संलिप्त बताये गए हैं। पकडे गए पांचों बदमाश मूल रूप से बांग्लादेश के रहने वाले हैं।