जिस जनता ने बहुमत दिया, वही उखाड़ फेंकेगी भाजपा को, कहा राहुल ने

0
594

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश के सबसे बड़े राज्य उत्तरप्रदेश में 80 सीटों पर चुनाव लडऩे का फैसला लिया है। उन्होंने बसपा नेता, सपा नेता मुलायम सिंह यादव और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के प्रति सम्मान भी जताते हुए कहा उनका गठबंधन स्वाभाविक था। हमने प्रस्ताव दिया था पर शायद उन्हें वह ज्य़ादा ठीक नहीं लगा। लेकिन हम जानते हैं कि उत्तरप्रदेश में कांग्रेस के नेता, कार्यकर्ता अब भी सक्रिय हैं। उम्मीद है कि वहां से भाजपा जीत नहीं सकेगी। हमें विपक्ष की जीत पर भरोसा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दुबई में सीएनएन न्यूज़ 18 के संवाददाता से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा जिन छोटे व्यापारियों, किसानों, युवाओं ने बड़ी उम्मीदों के साथ भाजपा को बहुमत दिया था। वे ही उन्हें इस बार उखाड़ फेंकेंगे।

जो वादे नरेंद्र मोदी ने किए वे झूठे निकले। उन्होंने कभी यह नहंी बताया कि जो राफेल जेट विमान 500 करोड़ का था उसे उन्होंने 1600 करोड़ में क्यों खरीदा। उन्होंने कभी यह नहीं बताया कि जब देश में हिंदुस्तान एअरोनोटिक्स लिमिटेड (हल) कंपनी है तो राफेल के पुर्जे बनाने का ठेका क्यों अनिल को दिया। जिसकी कंपनी का इस क्षेत्र में कोई अनुभव नहीं है। उन्होंने कभी यह नहीं बताया कि उन्होंने क्यों कहा था कि काला धन आएगा और 15-15 लाख रु पए सबके खातों मे आएगे। उन्होंने क्यों कहा कि किसानों के कजऱ्ों को माफ कर दिया जाएगा। महीनों बीते पर कुछ नहीं किया।  उन्होंने सबका भरोसा तोड़ा। हमने मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ में अपनी सरकार बनते ही दो दिन में किसानों का कजऱ् माफ किए।

उन्होंने देश की तमाम संवैधानिक संस्थाओं को खत्म कर दिया। सीबीआई के चीफ को एक बार रात डेढ बजे पदमुक्त किया। फिर जब सुप्रीम कोर्ट ने उस बहाल किया तो उसे फिर उन्होंने हटा दिया क्यों? इसलिए जिससे वह राफेलजेट के सौदे की जांच न करा सके।

एक सवाल के जवाब में राहुल ने कहा मेरा मतलब विदेश में देश की छवि खराब करना नहीं। मैं बताना चाहूंगा कि भारत की विदेशों में बड़ी ही गौरवपूर्ण छवि है जो बहुत मजबूत है। देश ही नहीं विदेश में असलियत सभी जानते हैं। मोदी के राज में बेरोज़गारी बढ़ी, भ्रष्टाचार बढ़ा, महंगाई बढ़ी, नोटबंदी से लोगों की जानें गई और राफेल सौदे के मुद्दे पर वे बात नहीं करते। घर बैठते हैं। संसद भी नहीं आते। जब उनसे पूछा गया कि उन्हें और उनके परिवार को मोदी  अलग-अलग , विशेषणों से संबोधित करते हैं, तो उन्हेें कैसा लगता है? राहुल ने कहा, मोदी जी उनके लिए जिन विशेषणों को इस्तेमाल करते हैं। वे जानें मैंने कभी उनके प्रति ऐसे शब्दों का प्रयोग नहीं किया जिससे उन्हें नीचा देखना पड़े। मैं हमेशा अपनी बात प्यार से कहता हूं। भाजपा के राज में असहिष्णुता बढ़ी। पूरे  देश में विभिन्न कार्य के बीच भय और आतंक की स्थितियां बनाई गई। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था।