चुनावी राज्य हिमाचल में पीएम ने 11,000 करोड़ रुपये के शिलान्यास किए

उन्होंने कहा – ‘हर देश में अलग-अलग विचारधाराएं होती हैं, लेकिन आज हमारे देश के लोग स्पष्ट तौर पर दो विचारधाराओं को देख रहे हैं। एक विचारधारा विलंब की है और दूसरी विकास की। विलंब की विचारधारा वालों ने पहाड़ों पर रहने वाले लोगों की कभी परवाह नहीं की।’

इस मौके पर मोदी ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की पीठ थपथपाई और कहा कि उन्होंने और उनकी मेहनती टीम ने ‘हिमाचल वासियों के सपनों को पूरा करने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी है’. कहा कि ‘इन चार सालों में 2 साल हमने मजबूती से कोरोना से भी लड़ाई लड़ी है और विकास के कार्यों को भी रुकने नहीं दिया’।

पीएम ने इस मौके पर कहा कि गिरी नदी पर बन रही रेणुकाजी बांध परियोजना जब पूरी हो जाएगी तो एक बड़े क्षेत्र को इससे सीधा लाभ होगा। इस परियोजना से जो भी आय होगी उसका भी एक बड़ा हिस्सा हिमाचल के ही विकास पर खर्च होगा। मोदी ने कहा – ‘पूरा विश्व भारत की इस बात की प्रशंसा कर रहा है कि हमारा देश किस तरह पर्यावरण को बचाते हुए विकास को गति दे रहा है। सोलर पावर से लेकर हाइड्रो पावर तक पवन ऊर्जा से लेकर ग्रीन हाइड्रोजन तक देश हर संसाधन को पूरी तरह इस्तेमाल करने के लिए निरंतर काम कर रहा है।’

प्रधानमंत्री ने लड़कियों के लिए शादी की उम्र पर बिल लाने का जिक्र करते हुए कहा कि हमने तय किया है कि बेटियों की शादी की उम्र भी वही होनी चाहिए, जिस उम्र में बेटों को शादी की इजाजत मिलती है। बेटियों की शादी की उम्र 21 साल होने से, उन्हें पढ़ने के लिए पूरा समय भी मिलेगा और वो अपना करियर भी बना पाएंगी।