चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे बंद

पहाड़ी से गिरा मलबा

0
325
पहाड़ी से दो बार भारी मलबा गिरने के बाद चंडीगढ़- मनाली राष्ट्रीय राजमार्ग बनाला के पास बंद हो गया है। बुधवार को सुबह मलवा गिरने के बाद सड़क बंद हो गयी हालाँकि कुछ घंटे की मेहनत के बाद इसे शुरू कर दिया गया। दोपहर ढाई बजे दुबारा मलवा गिरने से फिर बंद हो गयी।
शिमला मुख्यालय पहुँची जानकारी के मुताबिक नेशनल हाईवे बनाला गांव के पास पहाड़ी से भारी मलबा आने के बाद दोबारा बंद हो गया है। वहां सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गयी हैं। छोटे वाहनों को मंडी-कूल्लू के लिए वाया कटौला भेजा रहा है। दोपहर दो बजे के बाद से एनएच पूरी तरह से बंद हो गया है।
सुबह करीब साढ़े नौ बजे बनाला के पास शनि मंदिर के नजदीक पहाड़ी से भारी मलबा नेशनल हाईवे पर आ गया था और करीब दो घंटे तक यातायात बाधित हो रहा। इसके बाद मौके पर पहुंच कर एसडीएम सदर मदन कुमार ने अभी एकतरफा यातायात को बहाल करवा दिया लेकिन दोपहर बाद  दोबारा पहाड़ी से मलबा आया और पूरा एनएच बाधित हो गया। गौरतलब है कि फोरलेन के लिए सड़क की कटिंग का कार्य चला हुआ है जिससे बार-बार मलबा गिरने की समस्या हो रही है।
खुलेगा रोहतांग दर्रा
लाहुल-स्पीति के लोगों की सुविधा के लिए जल्द ही रोहतांग दर्रे को खोल दिया जाएगा। रोहतांग से यातायात को बहाल करने के लिए बीआरओ ने बुधवार दोपहर से काम शुरू कर दिया है। कुल्लू के उपयुक्त यूनुस ने बताया कि जिला प्रशासन लगातार सीमा सड़क संगठन के संपर्क में है। ”बीआरओ के अधिकारियों को रोहतांग दर्रे पर यातायात जल्द बहाल करने को कहा गया है। मढ़ी में बचाव चौकी स्थापित की गई है। अगर कोई व्यक्ति रोहतांग दर्रे को पैदल पार करना चाहता है, तो वह बचाव चौकी में अवश्य अपना पंजीकरण करवाए, न कि खराब मौसम में रोहतांग को पैदल पार करने की कोशिश करे।”